Rajasthan Exclusive > राजस्थान > खींवसर में फिर 3 बच्चों की तालाब में डूबने से मौत

खींवसर में फिर 3 बच्चों की तालाब में डूबने से मौत

0
178

प्रदेश के नागौर जिले के खींवसर उपखण्ड में ठीक एक साल बाद फिर तीन बच्चों की तालाब में डूबने की घटना ने हर किसी को झकझोर कर रख दिया है. गत वर्ष उपखंड मुख्यालय पर तीन बच्चों की तालाब में डूबने से मौत हुई थी, जबकि आज यानी सोमवार को खींवसर क्षेत्र की ग्राम पंचायत माडपुरा के दुजासर ग्राम स्थित तालाब में डूबने से तीन बच्चों की मौत हो गई. पांचौड़ी थाना पुलिस ने शवों का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सुपुर्द किया है.

पानी पीने के दौरान फिसला एक बच्चे का पैर

जानकारी मिलने पर नागौर वृताधिकारी विनोद कुमार, तहसीलदार रामस्वरूप जोहर एवं मौके पर पहुंचे. मृतकों में दुजासर निवासी मुली कंवर (11) पुत्री अमरसिंह राजपूत, ओंकार सिंह (9) पुत्र भवानीसिंह राजपूत और खेत सिंह (10) पुत्र मदनसिंह राजपूत है. नागौर वृताधिकारी विनोद कुमार ने बताया कि तीनों भेड़-बकरी चराते हुए तालाब पहुंचे, जहां पानी पीने के दौरान एक बच्चे का पैर फिसल गया और उसे बचाने के चक्कर में तीनों की तालाब में डूब गए, जिससे तीनों की मौत हो गई गत वर्ष 8 अगस्त को खींवसर उपखण्ड मुख्यालय स्थित बख्तासागर तालाब में डूबने से तीन बच्चों की मौत हो गई थी.घटना के दौरान बच्चों के परिजन पास ही स्थित खेत में निराई-गुड़ाई कर रहे थे. बच्चों को प्यास लगने पर वे पानी पीने बख्तासागर तालाब पर पहुंच गए.

तीन साल पहले भी डूब गए थे तीन बच्चे

इस दौरान एक बच्चा पानी पीते समय पैर फिसलने से डूब गया. उसे बचाने के लिए दो बच्चे नजदीक पहुंचे तो वे भी डूब गए. काफी देर तक बच्चों के नहीं लौटने पर परिजनों एवं आसपास के राहगीरों को जानकारी मिली तो वे भागकर तालाब पर पहुंचे. करीब एक घण्टे की मशक्कत के बाद तीनों बच्चों को बाहर निकाला गया गया गत वर्ष 8 अगस्त को खींवसर के बख्तासागर तालाब के डूबने वालों की पहचान जावेद (16) पुत्र सराजुद्दीन, आमीन (16) पुत्र जाहिर अब्बास मुसलमान व सावन (15) पुत्र सुनील हरिजन के रूप में हुई थी. गत वर्ष खींवसर में हुई घटना व सोमवार को दुजासर में हुई घटना लगभग एक जैसी है. दोनों ही घटनाओं में बच्चे पानी पीने के लिए तालाब पहुंचे और एक बच्चे का पैर फिसलने पर उसे बचाने के लिए दूसरे बच्चे तालाब में उतरे और तीनों ही डूब गए.