Rajasthan Exclusive > राजस्थान > राजस्थान: एडिशनल एसपी दो लाख रूपए की रिश्वत लेने के आरोप गिरफ्तार

राजस्थान: एडिशनल एसपी दो लाख रूपए की रिश्वत लेने के आरोप गिरफ्तार

0
283
  • एसपी अमृत यह रकम दलाल अनिल विश्नोई के मार्फत ले रहा था
  • घरेलू हिंसा के मामले को सेटल करवाने के लिये मांगी थी रिश्वत

जिले में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने रायसिंगनगर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एडिशनल एसपी) अमृत जीनगर को दो लाख रूपए की रिश्वत लेने के आरोप में रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। एसपी अमृत यह रकम दलाल अनिल विश्नोई के मार्फत ले रहा था। उसे भी एसीबी ने धरदबोचा है।

ट्रेप की यह कार्रवाई एसीबी सीकर के प्रभारी डिप्टी एसपी जाकिर अख्तर के नेतृत्व में सोमवार देर रात को की गई थी।

उनके सहयोग के लिए एसीबी के जयपुर मुख्यालय से डिप्टी एसपी मांगीलाल को भी भेजा गया था।

एसीबी ट्रेप की यह कार्रवाई डीजी डॉ. आलोक त्रिपाठी और एडीजी दिनेश एमएन के निर्देशन में की गई।

जानकारी के अनुसार एसीबी को शिकायत मिली थी कि श्रीगंगानगर जिले के रायसिंहनगर के एडिशनल एसपी अमृत जीनगर, एक महिला और उसके पति के बीच चल रहे घरेलू हिंसा के मामले को सेटल करवाने की एवज में दो लाख रूपए की रिश्वत मांग रहे है।

यह भी पढे: विधायकों की सैलरी रोकने समेत 3 अर्जियों पर आज हाईकोर्ट में सुनवाई

यह रकम अनिल विश्नोई नाम के व्यक्ति के मार्फत मांगी जा रही थी।

तब एसीबी मुख्यालय ने सीकर एसीबी के डिप्टी एसपी जाकिर अख्तर को कार्रवाई के लिए श्रीगंगानगर भेजा।

सोमवार देर रात दलाल ने रिश्वत की रकम एडिशनल एसपी अमृत जीनगर को दी।

ज्योंही एसीबी टीम ने रंगे हाथों एडिशनल एसपी अमृत को उसके सरकारी आवास के पास पकड़ा और उसे अपनी गाड़ी में बैठाकर ले जाने लगी।

तभी एएसपी के इशारे पर उनके गनमेन ने एसीबी टीम पर फायरिंग कर दी।

लेकिन निशाना चूक गया। इससे गोली डिप्टी एसपी जाकिर अख्तर के कनपटी के नजदीक से होकर निकल गई।

इस बीच एएसपी अपने घर तक पहुंच गए।

जोधपुर स्थित निजी आवास पर भी सर्च कार्रवाई

घटना के बाद डिप्टी एसपी जाकिर ने देर रात एडीजी दिनेश एमएन को सूचना दी।

इसके बाद उन्होंने श्रीगंगानगर जिले के एसपी और आईजी बीकानेर से बातचीत की।

तब स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची।

इसके बाद एसीबी ने घूसखोर एडिशनल एसपी, दलाल को पकड़ा लिया। वहीं, गनमेन सहित एडिशनल एसपी के खिलाफ स्थानीय थाने में फायरिंग करने और राजकार्य में बाधा उत्पन्न करने का मुकदमा भी दर्ज किया जा रहा है।

ट्रेप की कार्रवाई के बाद एसीबी टीम ने एडिशनल एसपी अमृत के जोधपुर स्थित निजी आवास पर भी सर्च की।

इसके बाद बाद मकान को सील कर दिया।