Rajasthan Exclusive > राजस्थान > मैंने अपना दोस्त और विश्वसनीय साथी खोया, अहमद पटेल के निधन पर गहलोत ने दुख व्यक्त किया

मैंने अपना दोस्त और विश्वसनीय साथी खोया, अहमद पटेल के निधन पर गहलोत ने दुख व्यक्त किया

0
359

जयपुर: कोरोना की चपेट में आने के बाद कांग्रेस पार्टी के कद्दावर नेता अहमद पटेल का निधन हो गया है. कोरोना की चपेट में आने के बाद करीब एक महीने से उनका इलाज चल रहा था. अहमद पटेल के निधन पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दुख व्यक्त किया हैं. गहलोत ने कहा कि में ने अपना एक करीबी दोस्त और विश्वसनीय साथी खोया है.

अशोक गहलोत ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर अहमद पटेल के प्रत्ये अपनी संवेदनाए व्यक्त कि. गहलोत ने ट्विट कर कहा कि, राजनीति से भी हटकर मेरे घनिष्ठ मित्र अहमद भाई के देहांत से मुझे गहरा आघात लगा। उनका इस तरह जाना मेरे लिये व्यक्तिगत क्षति है। आज मैंने अपना एक करीबी दोस्त और विश्वसनीय साथी खोया है। अहमद भाई की कमी को कोई भी पूरा नहीं कर पायेगा। अहमद पटेल ने पूरा जीवन कांग्रेस पाटी के लिये समर्पित कर दिया। श्री राजीव गांधी के साथ 1985 में प्रधानमंत्री के संसदीय सचिव के रूप से लगातार गुजरात प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव एवं कोषाध्यक्ष एवं कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव के रूप में सफलतापूर्वक जिम्मेदारियों को निभाने का एक इतिहास बनाया.

इस तरह उन्होंने चार दशकों से भी ज्यादा अपने राजनीतिक जीवन में सत्ता से दूर रहकर भी हमेशा कांग्रेस संगठन को एकजुट रखने में अपनी प्रतिबद्धता रखी। उनकी कमी हमेशा महसूस की जायेगी। अहमद भाई का अचानक जाना आज के समय पूरी राजनीतिक बिरादरी एवं राष्ट्र के लिये भी एक बडा आघात है। आज के हालात में तो कांग्रेस पार्टी को उनकी और अधिक कमी महसूस होगी। ईश्वर उनके परिवार को, सभी प्रियजनों को इस दुःख को सहन करने की क्षमता दे और अहमद भाई की आत्मा को शांति दे।