Rajasthan Exclusive > राजस्थान > राजस्थान: चंबल नदी हादसे के लिए मुआवजे का ऐलान, मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख की सहायता राशी

राजस्थान: चंबल नदी हादसे के लिए मुआवजे का ऐलान, मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख की सहायता राशी

0
76

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोटा के थाना खातौली क्षेत्र में चंबल नदी (Chambal River Exident Latest News) में नाव पलटने की घटना को दुखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने हादसे में मृतकों के शोकाकुल परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। गहलोत ने राहत एवं बचाव कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। दुर्घटना (Chambal River Exident Latest News) में मृतकों के आश्रितों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से एक-एक लाख रूपए की सहायता दी जाएगी।

कोटा जिले की सीमा के आखिरी क्षेत्र खातौली क्षेत्र के गोठड़ा गांव में बुधवार सुबह एक नाव (Chambal River Exident Latest News) चम्बल नदी में डूब गई। इस नाव में 50 से अधिक लोग सवार थे। साथ ही ग्रामीणों की मोटरसाइकिलें भी इस नाव में रखी हुई थे। कई लोगों के नदी में डूबने (Chambal River Exident Latest News) की आशंका है। नाव में महिलाएं और बच्चे भी सवार थे।

यह भी पढे: नो मास्क, नो एंट्री: कोरोना को लेकर राजस्थान सरकार गंभीर

कोटा के थाना खातौली क्षेत्र में चंबल नदी में नाव पलटने की घटना (Chambal River Exident Latest News) को दुखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। अशोक गहलोत नें दुर्घटना में मृतकों के आश्रितों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से एक-एक लाख रूपए की सहायता दी जाएगी।

बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंच गए और अपने स्तर पर बचाव व राहत कार्य में जुटे हुए है। पुलिस और प्रशासन भी मौके पर पहुंच गया है। हादसे की सूचना मिलने पर कोटा से भी बचाव और राहत दल रवाना हो गए हैं। जिला कलक्टर और एसपी ने हादसे की जानकारी ली और आला अधिकारी मौके के लिए रवाना हो गए हैं। नाव में 50 से अधिक लोग सवार थे, जो गोठड़ा गांव से चम्बल नदी पार कर रहे थे। अचानक नाव असन्तुलित हो गई और पानी भरने लग गया।

यह भी पढे: चंबल नदी में नाव डूबने से 14 लोगों की मौत, कोटा जिले के गोठड़ा गांव में कोहराम

नाव को डूबता (Chambal River Exident Latest News) देखकर इसमें सवार लोग चम्बल नदी में कूद गए थे, इसके बाद नाव भी पानी में डूब (Chambal River Exident Latest News) गई है। जो लोग तैरना जानते थे, वह तैरकर नदी से बाहर आ गए हैं। अभी तक यह पता नहीं चला कि कितने लोग नदी में डूबे (Chambal River Exident Latest News) हुए हैं। मौके पर सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण मौके पर है। लोगों की तलाश युद्ध स्तर पर जारी है

इस दुखान्तिका मैं 30वर्षीय मन्साराम,27वर्षीय उमा बाई,37वर्षीय हेमराज,52वर्षीय प्रेमबाई गुर्जर के शव बरामद,ये चारों मृतक रहने वाले हैं कोटा जिले के बरनाहाली गांव के,फिलहाल कुल 8 शव हो चुके हैं बरामद,चम्बल नदी में अभी भी जारी हैं शवों की तलाश का काम जारी है।

सड़क दुर्घटनाएं रोकने के लिए राजस्थान में लागू होगा तमिलनाडु मॉडल

प्रदेश में सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के लिए तमिलनाडु का चर्चित मॉडल लागू होने वाला है. सीएम अशोक गहलोत के निर्देशों के बाद परिवहन विभाग ने इसकी तैयारी पूरी कर ली है. राजस्थान में सड़क सुरक्षा को लेकर परिवहन विभाग और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गंभीर हैं. सड़क दुर्घटनाओं को रोकने और इससे हो रही जनहानि की क्षति को कम करने के लिए राज्य सरकार बेहद संवेदनशील है.

इसके लिए सरकार द्वारा निरंतर प्रयास भी किए जा रहे हैं. प्रदेश में सड़क दुर्घटना और उनसे होने वाली मृत्यु दर में कमी लाने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा बजट घोषणा 2020 और 21 के अंतर्गत तमिलनाडु राज्य की तर्ज पर राजस्थान सड़क सुरक्षा रोडमैप तैयार किए जाने की बात कही गई थी.

यह भी पढे: सड़क दुर्घटनाएं रोकने के लिए राजस्थान में लागू होगा तमिलनाडु मॉडल

परिवहन विभाग पिछले कुछ महीनों से इसकी तैयारी में लगा था, जिसे अब तैयार कर लिया गया है. वहीं तमिलनाडु राज्य की तर्ज पर राजस्थान सड़क सुरक्षा रोडमैप तैयार किया गया है. जिसके अंतर्गत प्रदेश के समस्त दोपहिया और चार पहिया वाहन शोरूमों में सड़क सुरक्षा कॉर्नर विकसित किए जाने हैं.

इसको लेकर भी विभाग की ओर से तैयारी की जा रही है. डीलर प्वाइंट पर सड़क सुरक्षा कॉर्नर विकसित किए जाएंगे. कॉर्नर में यातायात नियमों को जानकारी वाले पोस्टर बैनर फ्लेक्स स्टैंड प्रदर्शित किए जाएंगे. सड़क सुरक्षा कार्नर पर डिजिटल सिग्नेचर बॉल और सेल्फी जॉन भी विकसित किया जाएगा.