Rajasthan Exclusive > राजस्थान > जयपुर में हो रहा है कोरोना की आयुर्वेदिक दवा का क्लिनिकल ट्रायल

जयपुर में हो रहा है कोरोना की आयुर्वेदिक दवा का क्लिनिकल ट्रायल

0
234

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए देश-विदेश में रिसर्च चल रहा हैं. भारत में भी आयुर्वेद की दवाओं का कोरोना के पॉजिटिव मरीजों पर क्लिनिकल ट्रायल शुरू हो गया है. राजस्थान के जयपुर में कोरोना के दर्दी पर आयुर्वेदिक दवाओं का परीक्षण किया जा रहा है.

जयपुर के रामगंज में 12000 लोगों पर आयुर्वेद की एक इम्यूनिटी की दवा की टेस्टिंग भी शउरू की गई है. केंद्रीय आयुष मंत्रालय यह ट्रायल क्लिनिकल रिसर्च ओर्गेनाइजेशन टीम के साथ मिलकर करा रहा है. बताया जा रहा है कि आयुष मंत्रालय के अधीन काम करने वाले राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान के कोरोना को लेकर चार दवाएं बनाई हैं, जिनमें से एक का नाम आयुष 64 है. इस संबंध में प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि हमने इसकी इजाजत के लिए फाइल राज्यपाल को भेजी है.

राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान की तरफ से कोरोना को लेकर अलग-अलग स्तर पर रिसर्च किए जा रहे हैं. इनमें इम्यूनिटी बूस्टर किट भी है और च्यवनप्राश भी. जयपुर के हाई रिस्क जोन में रहने वाले करीब 5000 लोगों पर इसका ट्रायल पिछले 1 महीने से ज्यादा समय से चल रहा है और अब तक के नतीजे अच्छे रहने का दावा किया जा रहा है.