Rajasthan Exclusive > राजस्थान > पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से आम आदमी त्रस्त

पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से आम आदमी त्रस्त

0
156

कोरोना काल में पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों ने आम आदमी को तगड़ा झटका दिया है। ऐसे लगता है मोदी सरकार पेट्रोल-डीजल से होने वाली कमाई पर ही निर्भर हो चुकी है। सरकारी तेल कंपनियों ने मंगलवार को पेट्रोल-डीजल के दामों में 44वीं बार बढ़ोतरी कर दी है। कंपनियों ने पेट्रोल में 27 पैसे और डीजल के दामों में 24 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की है, जिससे जयपुर में पेट्रोल के दाम 101.02 रुपए और डीजल के दाम 94.19 रुपए प्रति लीटर हो गए है। साल 2021 में तेल कंपनियों ने 44वीं बार में डीजल 13.37 रुपए और पेट्रोल 12.35 रुपए प्रति लीटर महंगा कर दिया है। अकेले मई के महीने में ही जयपुर में डीजल के दामों में 4 रुपए 91 पैसे और पेट्रोल के दामों में 4 रुपए 41 पैसे की बढ़ोतरी हो चुकी है। जयपुर और भोपाल देश की मात्र दो राजधानियां हैं जहां उत्तर भारत में सबसे महंगा पेट्रोल और डीजल लगातार बना हुआ है।

पेट्रोलियम और नेचुरल गैस मंत्रालय ने धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि केंद्र सरकार पेट्रोल और डीजल पर लगने वाले टैक्स में कोई कटौती नहीं करेगी। पेट्रोलियम मंत्री ने कहा कि सरकार के पास पेट्रोल और डीजल पर लगने वाला टैक्स को घटाने का अभी कोई प्रस्ताव नहीं है। उन्होंने कहा कि पेट्रोल और डीजल पर टैक्स बढ़ाना या कम करना सरकार की जरूरतों और बाजार की स्थिति जैसे कई पहलुओं पर निर्भर करता है।