Rajasthan Exclusive > राजनीती > राजस्थान : मुख्यमंत्री आवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक, गहलोत से मिले पायलट

राजस्थान : मुख्यमंत्री आवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक, गहलोत से मिले पायलट

0
244
  • अशोक गहलोत से मिले पायलट

  • कांग्रेस विधायक दल की बैठक

  • पायलट ने सोनिया गांधी और गहलोत को दिया धन्यवाद

कांग्रेस विधायक दल की बैठक मुख्यमंत्री आवास में शुरू हो गई है. ज्यादातर विधायक बैठक के लिए पहुँच चुके हैं. बताया जा रहा कि बैठक में निगम-मंडल की नियुक्ति को लेकर मंत्रणा हो रही है. बैठक के बाद निगम-मंडल के लिए नेताओं की पहली सूची जारी की जा सकती है. विधायकों के बीच तालमेल बिठाने की कोशिश की जा रही. संसदीय सचिवों की नियुक्ति के ठीक बाद हो रही इस बैठक को सत्ता और संगठन के बीच लिहाज से अहम माना जा रहा है.

पीसीसी पूर्व अध्यक्ष सचिन पायलट, पीसीसी प्रभारी अविनाश पांडे, पीसीसी अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, सह प्रभारी देवेंद्र यादव, काजी निजामुद्दीन और विवेक बंसल बैठे हैं. यह बैठक में मुख्य रूप से विधानसभा सत्र की तैयारियों पर चर्चा हुई। गहलोत और अन्य वरिष्ठ नेताओं ने सभी विधायकों ने एकजुट रहने का आह्वान करते हुए कहा कि हमारी सरकार पूरी तरह मजबूत है।

राजस्थान की कांग्रेस सरकार के संकट से बाहर आने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक शुरू हो चुकी है। सचिन पायलट ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ मुलाकात कर हाथ मिलाया। बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल भी मौजूद है।

शुक्रवार को राज्य राज्य विधानसभा का सत्र बुलाया गया है। सचिन पायलट की कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा से मुलाकात के बाद राजस्थान में कई समय से जारी संग्राम थम गया है। बैठक को लेकर पार्टी संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने दोनों पक्ष के विधायकों से बातचीत की है।

बागी विधायकों की घर वापसी के बाद मुख्यमंत्री गहलोत ने लगभग एक महीने की राजनीतिक खींचतान व उठापटक को भूलकर आगे बढ़ने की नसीहत देते हुए कहा कि यह लड़ाई लोकतंत्र को बचाने की है जो आगे भी जारी रहेगी। 14 अगस्त से शुरू होने वाले विधानसभा सत्र के लिए कांग्रेस के विधायक जयपुर लौट आए हैं।

कई विधायक नाराज

बगावत करने वाले सचिन पायलट एक बार फिर कांग्रेस के पास पहुंच गए हैं. गुरुवार शाम को होने वाली कांग्रेस विधायक दल की बैठक में अशोक गहलोत के समर्थक विधायकों के साथ ही सचिन पायलट गुट के विधायक भी शामिल होने वाले हैं. हालांकि पायलट गुट की वापसी से कई विधायक नाराज भी बताए जा रहे हैं.