Rajasthan Exclusive > राजस्थान > सीकर में कोरोना विस्फोट, 1 दिन में मिले अब तक के सर्वाधिक 143 संक्रमित मरीज

सीकर में कोरोना विस्फोट, 1 दिन में मिले अब तक के सर्वाधिक 143 संक्रमित मरीज

0
266
  • 2 मरीजों की मौत के साथ कोरोना पॉजिटिव की संख्या 1600 पार

  • प्रशासन ने शुरू की सख्ती, दिनभर बिना मास्क वालों पर कार्रवाई

जयपुर: सीकर जिले में सोमवार को कोरोना का जबरदस्त कहर टूटा।

जिले में कोरोना के दो मरीजों की मौत के साथ 143 नए कोरोना पॉजिटव मिले।

जो जिले में कोरोना का अब तक का सबसे बड़ा अटैक है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अजय चौधरी ने बताया कि सोमवार को मिले 143 नए कोरोना मरीजों में से सबसे ज्यादा 61 मरीज सीकर शहर के हैं।

इसके बाद खण्डेला से 23, फतेहपुर से 18, श्रीमाधोपुर से 13, नीमकाथाना और पिपराली से 9-9 लक्ष्मणगढ और कूदन ब्लॉक से 5-5 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं।

नए कोरोना मरीजों के बाद जिले में कुल कोरोना मरीजों की संख्या भी 1500 का आंकड़ा पार करते हुए 1604 तक पहुंच गई।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार सीकर जिले के 14 मरीज सोमवार को स्वस्थ हुए।

यह भी पढे: यौन उत्पीड़न मामले में आरोपी आसाराम को बड़ी राहत, सेंट्रल जेल में मिलेगा बाहर का खाना

जिनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उन्हें घर भेज दिया गया।

इसके बाद जिले में कोरोना के स्वस्थ हुए मरीजों की संख्या 1030 हो गई।

कोरोना का लगातार दूसरा शतक

सीकर जिले में कोरोना के लगातार दूसरे दिन 100 से ज्यादा मामले सामने आए हैं।

इससे पहले रविवार को जिले में 111 मरीज सामने आए थे।

जो जिले में एक दिन में मिले कोरोना मरीजों का उच्चतम आंकड़ा था।

लेकिन, आज फिर कोरोना का रिकॉर्ड टूटा और 143 मरीज सामने आ गए।

इधर, कोरोना के मरीज सीकर शहर में लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इससे शहर में दहशत बढ़ती जा रही है।

हालांकि कोरोना का काबू में करने के लिए प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सोमवार को बिना मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग के नजर आए व्यापारियों पर कार्रवाई भी की।

जिलेभर से लिए 1082 सैंपल

स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को जिलेभर में कोरोना टेस्ट के लिए 1082 नए सैंपल भी लिए।

डिप्टी सीएमएचओ डॉ सी. पी. ओला ने बताया कि विभाग की ओर से अब तक 64 हजार 569 सैम्पल लिए गए हैं।

इनमें से 61 हजार 486 की रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई है।

यह भी पढे: जानें कैसे मिलेगा एडमिशन, उच्च शिक्षा में इस साल पर्सेंटाइल फार्मूला नहीं

वहीं 1146 सैम्पल की जांच होना अभी बाकी है।

उन्होंने बताया कि सोमवार को जिले में लिए गए 1082 सैंपल में से दांता क्षेत्र से 139, फतेहपुर से 124, खण्डेला सें 110, कूदन से 71, लक्ष्मणगढ़ से 58, नीमकाथाना से 32, पिपराली से 156, श्रीमाधोपुर से 83 और सीकर शहर से 309 सैंपल शामिल है।

कोरोना बढऩे से परेशान प्रशासन

जिले में लगातार बढ़ते कोरोना पॉजिटिव के आंकड़े ने चिकित्सा विभाग की चुनौती बढ़ा दी है।

रविवार को 111 और सोमवार को 143 मरीज आने के बाद जिले के कोविड सेंटर पूरी तरह भर गए।

ऐसे में मरीजों को कोविड सेंटर में काफी परेशानी का भी सामना करना पड़ा।

इधर, लगातार पॉजिटिव आने के बाद भी जिला प्रशासन ने कोई सख्त फैसला नहीं लिया है।

सांवली, खाटूश्यामजी और खंडेला में कोविड सेंटर बने हुए हैं। जिनकी क्षमता पिछले तीन दिन में लगभग पूरी हो चुकी है।

ऐसे में नए पॉजिटिव की संख्या बढऩे के कारण अब चिकित्सा विभाग के सामने सभी मरीजों को कोविड सेंटर में रख पाना मुश्किल हो गया।

ऐसे में रात भर पॉजिटिव मरीजों को लिए एम्बुलेंस भटकती रही।

यह भी पढे: गाइडलाइन्स का उल्लघंन करने पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी: महानिदेशक पुलिस

चिकित्सकों ने बताया कि प्रशासन की ओर से गाइडलाइन के बावजूद बिना लक्षणों वाले मरीजों को होम आइसोलेट नहीं करने से ही यह परेशानी बढी है।

जिले में यूं बढ़ रहा पॉजिटिव का आंकडा

सीकर जिले में कोरोना का पहला पॉजिटिव 20 मार्च को जयपुर में एयरपोर्ट पर मिला था। जिले 14 अप्रेल तक दो पॉजिटिव आए। 15 अप्रेल से 3 मई तक चार पॉजिटिव आए।

चार मई से 17 मई तक 33 पॉजिटिव, 18 मई से 31 मई तक 168 पॉजिटिव, एक जून से 30 जून तक 349 पॉजिटिव, एक जुलाई से 31 जुलाई तक 497 पॉजिटिव, एक अगस्त से 8 अगस्त तक 287 पॉजिटिव मिले है।