Rajasthan Exclusive > राजस्थान > राजस्थान: कोरोना पॉजिटिव छात्रा पहुंची परीक्षा देने

राजस्थान: कोरोना पॉजिटिव छात्रा पहुंची परीक्षा देने

0
221

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की ओर से मंगलवार को देशभर में जेईई मेन परीक्षा शुरू हुई।

पहले दिन बी-आर्क, बी प्लानिंग की परीक्षा हुई।

कोटा के रानपुर स्थित सेंटर पर कोरोना पॉजिटिव छात्रा के परीक्षा देने के लिए पहुंचने से हड़कंप मच गया।

छात्रा ने टच फ्री प्रोसेस के दौरान खुद के पॉजिटिव होने की बात बताई और अपने परिजनों के भी पॉजिटिव होने बात स्वीकारी।

इसके बाद छात्रा को बगैर परीक्षा के भिजवा दिया गया।

छात्रा से जुड़ी जानकारी सामने आने के बाद परीक्षा आयोजन से जुड़े स्थानीय प्रतिनिधियों ने एनटीए के अधिकारियों से बात की।

इसके साथ ही छात्रा को कोविड-19 रिपोर्ट के साथ डिटेल जानकारी ई-मेल से सबमिट करने के निर्देश दिए।

यह भी पढे: कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिए सरकार पूरी तरह तैयार: रघु शर्मा

इसके बाद छात्रा को भिजवा दिया गया। रानपुर स्थित सेंटर पर पहली शिफ्ट में 242 में से 145 तथा दूसरी शिफ्ट में 179 में से 96 स्टूडेंट्स उपस्थित रहे।

कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिए सरकार पूरी तरह तैयार: रघु शर्मा

राजस्थान में तेजी से कोरोना के नये पॉजिटिव केस बढ़ रहे है जो राज्य सरकार के लिए इस समय सबसे बड़ी चिंता और इससे निपटना सबसे बड़ी चुनौती है.

चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा का दावा है कि राज्य सरकार ने कोरोना नियंत्रण के लिए और मजबूत तैयारी कर ली है.

राजस्थान में निजी अस्पताल से लेकर RUHS , SMS मेडिकल कॉलेज और केंद्र सरकार के ESI जैसे अस्पतालों से आने वाले दिनों में किसी भी तरह की मदद कोरोना मरीजों को लेकर ली जा सकती है.

चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने बताया कि कोरोना से पीड़ित मरीजों की जान बचाना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता में है.

इसीलिए मुख्यमंत्री के निर्देशों पर आरयूएचएस अस्पताल के चार गुना बैड को हाइफ्लो आक्सीजनयुक्त किया जाएगा.

यह भी पढे: सचिन पायलट ने देश की अर्थव्यवस्था बिगड़ने के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया

ताकि गंभीर मरीजों को हाइफ्लो ऑक्सीजन आसानी से उपलब्ध करवाई जा सके.

उन्होंने बताया कि कोविड के अन्य मरीजों के लिए आरयूएचएस में ही 100 बैड का कोविड केयर सेंटर भी बनाया जा रहा है.