Rajasthan Exclusive > हमारी जरूरते > नए तेवर के साथ अब इंस्टाग्राम पर आया निर्वाचन विभाग, युवा ताजगी के साथ वोटर्स के सामने

नए तेवर के साथ अब इंस्टाग्राम पर आया निर्वाचन विभाग, युवा ताजगी के साथ वोटर्स के सामने

0
152

जयपुर: निर्वाचन विभाग अब नए तेवर में है. नए जमाने के साथ कदमताल करते हुए अब निर्वाचन विभाग इंस्टाग्राम पर आ गया है.

इंस्टा पर इसका अकाउंट के नाम से है.

इसमें विभाग ने लोकतंत्र की उजली-उजली तस्वीर को साझा करते हुए अपनी स्वीप और अन्य गतिविधियों को जीवंत किया है.

इसके साथ ही कोरोना के समय विभाग ने वोटर रजिस्ट्रेशन और निर्वाचन से जुड़े कामों के ऑनलाइन तंत्र को और मजबूत भी किया है.

निर्वाचन विभाग अब युवा ताजगी के साथ वोटर्स के सामने है.

वक्त की नजाकत को समझते हुए लगातार यू ट्यूब और फेसबुक पर अपडेट होने के बाद अब निर्वाचन विभाग इंस्टाग्राम पर सक्रिय है.

इंस्टाग्राम पर अकाउंट खोलने के साथ निर्वाचन विभाग युवाओं की क्रिएटिविटी की झलक तस्वीरों के जरिये दिखा रहा है.

क्या है इन तस्वीरों में और क्यों जरूरी है इंस्टा पर सक्रियता-

  • इन गतिविधियों में ऐसी फोटोज हैं जिनमें बताया गया है कि कैसे बुजुर्गों, दिव्यांगों को सुविधा उपलब्ध कराकर वोटिंग सुनिश्चित किया गया है.
  •  इन तस्वीरों में हायर वोटिंग पर्सेंटेज के आंकड़े को ग्राफिक्स के जरिये समझाया गया है.
  •  इन तस्वीरों में पारंपरिक राजस्थानी ड्रेस में लोकतंत्र के गीत गाती ग्रामीण महिलाओं की तस्वीर है.
  •  एक तस्वीर में बताया गया है कि कैसे दूल्हा घोड़ी पर बैठा हुआ वोटिंग जागरुकता का बैनर लहराता हुआ जा रहा है.
  •  शादी के बाद तुरंत वोटिंग करने की भी तस्वीर है.
  •  इसके साथ नुक्कड़ नाटकों और दिव्यांग वोटर्स के लिए व्हील चेयर और स्वयंसेवकों की बूथ पर व्यवस्था को दिखाने वाली फोटोज भी हैं.
  •  आदर्श बूथ की झलक भी दिखाई गई है. कार्टून्स के जरिये वोटिंग और एथिकल वोटिंग को बताया गया है.
  •  यह बताया गया है कि कैसे वोटर सर्विस हेल्पलाइन 1950 के जरिये मतदाता सूची में नाम है या नहीं, यह वेरिफाई किया जा सकता है.
  •  इनमें बताया गया है कि ईवीएम क्या है और कैसे उसकी टेम्परिंग नहीं की जा सकती.
  •  इनमें स्कूलों और कॉलेजों में वोटिंग जागरुकता की गतिविधियों को जीवंत किया है जिसमें कई तरह के क्रिएटिव फीचर्स हैं.

क्यों आना जरूरी था इंस्टाग्राम पर

वोटर्स में एक बड़ा वर्ग इंस्टाग्राम पर जुड़ा है और ऐसे में विभाग की कोशिश है कि उनकी सपनों की उड़ान को लोकतंत्र के नजरिये से बताने की कोशिश की गई है.

जिसमें कुछ क्रिएटिविटी वाले पिक्चर्स हैं.

साथ ही टीचर्स, बीएलओ और अन्य वर्कर्स की चुनाव, वोटिंग जागरुकता को लेकर गतिविधियों को तस्वीर की जुबानी समझाई.

  • कुल वोटिंग में 18 से तीस-पैंतीस साल का युवा का सबसे ज्यादा वोटिंग पर्सेंट रहता है.
  • ऐसे में निर्वाचन विभाग इन पर फोकस करके वोटिंग पर्सेंटेज और बढ़ाना चाहता है.
  • आज का युवा टेक्नो सेवी है और सेल्फी और फोटो का क्रेज है. एंड्रॉयड मोबाइल ने इसे परवान चढ़ाया है.
  • ऐसे में इस शौक का सकारात्मक उपयोग करने के लिए निर्वाचन विभाग ने इंस्टाग्राम अकाउंट शुरू किया है.
  • इंस्टाग्राम पर लोकतंत्र और वोटिंग से जुड़ी तस्वीरों का जीवंत आईना नजर आता है जिससे आम वोटर्स को वोटिंग का महत्व ज्यादा अच्छी तरह से समझ में आता है.
  • युवाओं को इसके जरिये मैसेज देने की कोशिश की गई है कि नए जमाने के हिसाब से निर्वाचन विभाग पीछे नहीं है और नई तकनीक में वह लगातार कदमताल कर रहा है.
  • इन तस्वीरों में झूमता-गाता इठलाता लोकतंत्र नजर आता है जिससे लोकतंत्र की उजली तस्वीर नजर आती है जो लोकतंत्र की गांवों-देहातों में रीच को भी बताती है.
  • इससे पता चलता है कि निर्वाचन विभाग के स्वीप कार्यक्रमों का कितना असर हुआ है.

निर्वाचन विभाग फेसबुक और अन्य सोश्यल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पहले से ही सक्रिय है.

साथ ही वह राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल पर वोटर रजिस्ट्रेशन, नाम जुड़वाने, संशोधित कराने उसमें गलती ठीक कराने को लेकर बार-बार जागरुक पहले से ही किया जा रहा है.

सीईओ प्रवीण गुप्ता ने चार्ज संभालते ही कोरोना के समय ऑनलाइन गतिविधियों को और इनकरेज करने पर जोर दिया है. इसे लेकर अधिकारियों को खास निर्देश भी दिए गए हैं जिसके चलते आम वोटर्स को किसी भी तरह की दिक्कत नहीं हो क्योंकि अब वोटर्स का कंटीन्युअस अपडेशन जारी रहता है.