Rajasthan Exclusive > हमारी जरूरते > एड्स के इलाज में बड़ी सफलता, सिर्फ दवा से पहली बार खत्म हुआ HIV संक्रमण

एड्स के इलाज में बड़ी सफलता, सिर्फ दवा से पहली बार खत्म हुआ HIV संक्रमण

0
208

दुनियाभर के डॉक्टर और वैज्ञानिक कोरोना महामारी का इलाज ढूंढने में व्यस्त है. इस बीच एक और गंभीर बीमारी में सफलता हाथ लगी है. ब्राजील का एक शख्स एड्स के वायरस से मुक्त हो गया है. यह दावा साओ पाउलो की फेडरल यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने किया है. शोधकर्ताओं के मुताबिक, HIV पीड़ित को कई तरह की एंटीरेट्रोवायरल दवाओं और निकोटिनामाइड ड्रग का कॉम्बिनेशन दिया गया जिसके बाद वह मरीज वायरस मुक्त हो गया है.

इस बात खुलासा शोधकर्ताओं ने हाल ही में ऑनलाइन हुई एड्स 2020 कॉन्फ्रेंस में किया. शोधकर्ता डॉ. रिकार्डों डियाज के मुताबिक, ब्राजील के शख्स को अक्टूबर 2012 में एचआईवी डायग्नोज हुआ था. ट्रायल में मरीज ने एड्स के इलाज के दौरान ली जाने वाली दवाएं बंद कर दीं. रिसर्च के दौरान मरीज को लम्बे समय तक हर दो महीने पर एंटीरेट्रोवायरल दवाओं और निकोटिनामाइड ड्रग का कॉम्बिनेशन दिया गया.

एक साल बाद जब मरीज का ब्लड टेस्ट किया गया तो रिपोर्ट निगेटिव आई. मरीज के शरीर में वायरस को खत्म करने के लिए एंटीबॉडी का स्तर क्या रहा, यह पता नहीं चल पाया. शोधकर्ताओं के मुताबिक, दवाओं के कॉम्बिनेशन ने बेहतर काम किया. अगर इस मामले की पुष्टि होती है तो यह एड्स का पहला मामला होगा, जहां बिना स्टेम सेल ट्रांसप्लांट के एचआईवी को शरीर से बाहर निकाला गया.

मालूम हो कि इस समय पूरी दुनिया कोरोना महामारी की चपेट में हैं. लगातार मामले बढ़ते जा रहे हैं और इनकी संख्या अब सवा करोड़ के करीब पहुंच चुकी है. हालांकि इस महामारी का काट ढूंढ रहे डॉक्टरों को अभी कुछ खास सफलता नहीं मिली है. कई दवाईओं और वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है लेकिन निकट भविष्य में अभी इसको लेकर कोई अच्छी खबर मिलने की उम्मीद नहीं है.

राजस्थान: शादी में हिस्सा लेने वाले 37 लोग कोरोना पॉजिटिव