Rajasthan Exclusive > राजस्थान > कोरोना संकट के बीच बढ़ रहा राजस्थान में नफरत का वायरस, पुलिस ने दर्ज किया मामला

कोरोना संकट के बीच बढ़ रहा राजस्थान में नफरत का वायरस, पुलिस ने दर्ज किया मामला

0
395

कोरोना संकट के बीच नफरत का वायरस भी तेजी से फैल रहा है. उत्तर प्रदेश के बाद अब राजस्थान में भी सोशल मीडिया में डॉक्टरों के ग्रूप का एक स्क्रीनशॉट वायरल हो रहा है. जिसमें कोरोना वायरस संक्रमित मुस्लिम मरीजों को नहीं देखने के बारे में आपस में चर्चा की जा रही है. व्हाट्स एप स्क्रीनशॉट वायरल होने के बाद पुलिस ने अस्पताल के तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की जांच कर रही है.

मिल रही जानकारी के अनुसार नया मामला राजस्थान के चुरू जिले के सरदारशहर का है. श्रीचंद बराडिया रोग निदान केंद्र के डॉक्टरों का है जिसमें लिखा गया ” मैं शपथ लेता हूं कि कल से हम मुस्लिम रोगियों का एक्स-रे नहीं करेंगे, एक अन्य मैसेज में लिखा गया कि हमें मुस्लिम मरीजों के इलाज करना बंद कर देना चाहिए.”

मामला सामने आने के बाद श्रीचंद बराडिया रोग निदान केंद्र के सुनील चौधरी ने खुद फेसबुक पर एक पोस्ट लिखकर माफी माँगी. उन्होंने इसमें लिखा “अस्पताल के स्टाफ का मकसद किसी धार्मिक समुदाय की भावनाओं को आहत करना नहीं था” लेकिन व्हाट्स एप ग्रूप का मैसेज वायरल होने के बाद पुलिस ने मामले का संज्ञान लेते हुए भारतीय दंड संहिता के विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज आगे की जांच कर रही है.

सरदारशहर पुलिस स्टेशन के एसएचओ महेंद्र दत्त शर्मा ने बताया कि प्रारंभिक जांच के बाद तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है, जिसमें एक डॉक्टर, एक लैब टेक्नीशियन और एक कंपाउंडर का नाम शामिल है.