Rajasthan Exclusive > राजस्थान > राजस्थान के ईन गांवों मे भारी बारिश, लोगों को उमस से मिली राहत

राजस्थान के ईन गांवों मे भारी बारिश, लोगों को उमस से मिली राहत

0
496

बुआई का इंतजार कर रहे किसानों का इंतजार शुक्रवार को उस समय खत्म हो गया, जब मेघ जमकर बरसे। हालांकि शहर में हल्की बारिश हुई, लेकिन ग्रामीण इलाकों में अच्छी बारिश हुई। बारिश से मौसम ठंडा हो गया। लोगों को उमस से राहत मिली।

गर्मी और उमस से बेहाल लोगों को शुक्रवार दोपहर मौसम ने फिर राहत दी। बीकानेर शहर में दोपहर बाद अंधड़ से पूरा माहौल धूल-धूसरित हो गया। फिर बारिश शुरू हो गई। तेज हवा के कारण कुछ मिनट तो अच्छी बारिश हुई, लेकिन फिर बूंदाबांदी तक सिमट गई। हालांकि शहर के अलग-अलग इलाकों में कम या ज्यादा बारिश हुई।

उधर, जिले के दंताैर, पूगल, काेलायत, लालमदेसर बड़ा, गजनेर, काेलायत, माेमासर, केसरदेसर बाेहरान, पलाना, जैसा, मेहराणा, धीरेरां, बादनूं सहित कई इलाकों में एक घंटे से अधिक मूसलाधार बारिश हुई। बारिश के बाद गांव की गलियां और सड़कें दरिया बन गईं। कई गांवाें में बारिश से पहले आए अंधड़ के कारण पेड़ और पाेल गिर गए।

दंताैर के बीएलडी नहर की आरडी 80 से 90 तक जगह-जगह पेड़ की शाखाएं टूटकर नहर में गिर गईं। निचले इलाकों में पानी भर गया और कई कच्चे मकान गिर गए। उधर, बारिश के बाद किसानों ने खेतों की ओर रुख किया। शनिवार और रविवार को बारानी जमीन पर बुआई होगी। इस दौरान अधिकतम तापमान 39.2 और न्यूनतम 30 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

इन गांवों में भी हुई बारिश

नोखा, पूगल तहसील के करणीसर भाटियान, जालवाली, लूणकरणसर के 2 जीएम, राणेर, लाखनसर, दामोलाई और आसपास की ढाणियां, नापासर, मूंडसर, रामसर, सींथल, लालमदेसर छोटा, उत्तमदेसर, साधासर, बिदासरिया ‌और छतरगढ़ के सतास, मोतीगढ़, आवा आदि गांवों में भी बारिश के बाद मौसम खुशनुमा हो गया।