Rajasthan Exclusive > राजस्थान > चुनौतियों और प्रोटोकॉल‘ विषय पर अंतरराष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन

चुनौतियों और प्रोटोकॉल‘ विषय पर अंतरराष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन

0
30

जयपुर: भारत निर्वाचन आयोग के मुख्य चुनाव आयुक्त और विश्व चुनाव संस्थान (एसोसिएशन ऑफ वर्ल्ड इलेक्शन बॉडीज) के अध्यक्ष सुनील अरोड़ा ने सोमवार को अंतराराष्ट्रीय स्तर पर वेबीनार (International webinars planning)का आयोजन कर करीब 45 देशों के चुनाव अधिकारियों और देश के मुख्य निर्वाचन अधिकारियों के साथ ‘कोरोना के दौरान चुनाव कराने के मुद्दे, चुनौतियों और प्रोटोकॉल‘ (International webinars planning)विषय पर चर्चा की और गहन मंथन किया।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि एसोसिएशन का गठन इसी वर्ष 2-4 सितम्बर, 2020 को बेंगलूरू में आयोजित अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस (International webinars planning) में हुआ और भारत निर्वाचन आयोग के मुख्य निर्वाचन आयुक्त को इस संस्था की अध्यक्षता सौंपी। यह संस्था द्वारा की गई पहली वर्चुअल बैठक थी। उन्होंने बताया कि वेबीनार (International webinars planning) में 45 देशों के वरिष्ठ अधिकारियों ने सक्रिय रूप से हिस्सा लिया। इन देशों में अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, भूटान, बांग्लादेश, बोत्सवाना, ब्राजील, कम्बोडिया आदि शामिल हैं।

भारत निर्वाचन आयोग के तत्वाधान में आयोजित इस अंतरराष्ट्रीय वेबीनार (International webinars planning) में मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि विश्व व्यापी कोरोना वायरस की त्रासदी को देखते हुए चुनाव कराने के कई मुद्दे एवं चुनौतियां हैं, जिनके लिए प्रोटोकॉल निर्धारित करते हुए चुनाव सम्पन्न कराना एक बहुत बड़ी चुनौती है।

यह भी पढे: कोरोना संक्रमितों को 30 मिनट में चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराएगा राज्य स्तरीय वॉर रुम

फिजी, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया, मलावयी, ताईवान, मंगोलिया, इंडोनेशिया, दक्षिण अफ्रीका एवं कई अन्य राष्ट्रों ने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार नवाचारों के साथ चुनाव सम्पन्न कराए गए हैं, जिनके लिए व्यापक व्यवस्था की गई हैं ताकि आम नागरिकों के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए चुनाव सम्पन्न (International webinars planning) कराया जा सके।

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि भारत जैसे विशाल, बहुभाषी एवं विभिन्नता लिए हुए लोकतांत्रिक देश में चुनाव कराना एक चुनौती है। देश के बिहार राज्य जिसमें कि 72.9 मिलियन मतदाता हैं। इस राज्य में होने वाले चुनावों के लिये कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए मतदान (International webinars planning) केन्द्र पर मतदाताओं की अधिकतम संख्या 1500 के स्थान पर 1000 रखी गई है जिसके फलस्वरूप मतदान केन्द्रों की संख्या में 40 प्रतिशत वृद्धि हुई है।

नवम्बर दिसम्बर, वर्ष 2019 में झारखंड में एवं फरवरी, 2020 में दिल्ली राज्य में सम्पन्न विधानसभा आम चुनावों के दौरान 80 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिक जन, विशेष योग्यजन एवं अति विशिष्ट सेवाओं से जुड़े मतदाताओं को पोस्टल बैलेट पेपर के माध्यम से मतदान की सुविधा प्रदान की है। इस प्रकार की सुविधा कोविड पॉजिटिव मतदाता एवं क्वारेन्टाइन या अस्पताल में भर्ती मतदाताओं को भी प्रदान की गई है। माह जून, 2020 में राज्य सभा की 18 सीटों के चुनाव भी कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए तथा तदनुसार सभी सुविधायें उपलब्ध करवाते हुए सफलता पूर्वक सम्पन्न (International webinars planning) करवाये गये हैं।

यह भी पढे: रबी फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य को मंजूरी, गेहूं पर 50 रु. की बढ़ोतरी

इस अन्तर्राष्ट्रीय वेबीनार में दो प्रकाशन Brief Profiles of The Countries, Member EMBs and Partner Organizations of a A-WEB Covid-19 and International Election Experience का विमोचन किया गया। उक्त प्रकाशन अनुसंधान एवं सहभागिता के लिये उपयोगी होंगे ऐ-वेब इंडिया सेन्टर द्वारा ऐ-वेब जर्नल ऑफ इलेक्शन के प्रकाशन का उल्लेखनीय कार्य किया गया है तथा इसके प्रथम संस्करण का प्रकाशन मार्च, 2019 में किया गया है।