Rajasthan Exclusive > राजस्थान > गैंगस्टर बनने की चाह रखने वालों के लिये जेल ही बेहतर जगह: राजस्थान हाईकोर्ट

गैंगस्टर बनने की चाह रखने वालों के लिये जेल ही बेहतर जगह: राजस्थान हाईकोर्ट

0
235

राजस्थान हाईकोर्ट ने फेसबुक पर गैंगस्टर की फेक आईडी बनाकर लोगों को धमकाने और गैंगस्टर बनने की चाह रखने वाले एक 20 वर्षीय युवक को जमानत देने से इंकार कर दिया है.

जस्टिस पंकज भण्डारी की एकलपीठ ने आरोपी युवक अरबाज द्वारा पेश की गयी जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि गैंगस्टर की चाह रखने वालों के लिए जेल ही बेहतर जगह है.

वहीं आरोपी युवक अरबाज की ओर से जमानत के लिए कहा गया कि आरोपी की पहली गलती है.

यह भी पढे: CM ने प्रदेश को 828 करोड़ रुपए की मेडिकल परियोजनाओं का तोहफा दिया

आरोपी एक 20 साल का युवा है जो कॉलेज में पढाई कर रहा है इसलिए उसे जमानत दी जाये.

जमानत का विरोध करते हुए राज्य सरकार की ओर से राजकीय अधिवक्ता शेरसिंह महला ने अदालत से कहा कि ऐसे युवा ही आगे जाकर गैंगस्टर बनते हैं.

आरोपी ने फेक आईडी के जरिए अपराध को महामण्डित किया है इसलिए ऐसे आरोपी को जमानत नहीं दी जाये.

दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद जस्टिस पंकज भण्डारी की एकलपीठ ने आरोपी युवक अरबाज की जमानत खारिज करने के आदेश दिये.