Rajasthan Exclusive > राजस्थान > जयपुर में कोरोना संक्रमण का हो रहा भयावह विस्तार

जयपुर में कोरोना संक्रमण का हो रहा भयावह विस्तार

0
158

कोरोना के मामले में एक ओर जहां राजस्थान के लिए अक्टूबर महीने की शुरुआत अच्छी हुई है वहीं जयपुर जिले में नए संक्रमित मिलने की संख्या में कोई कमी नहीं आई है। प्रदेश में शुरुआती चार दिनों में कोरोना से 8106 मरीज ठीक हो चुके हैं जबकि 8738 नए मरीज आए। इस लिहाज से प्रदेश की रिकवरी रेट जो सितम्बर तक 81. 90 था अब 92. 7 प्रतिशत हो गया है जबकि जयपुर जिले की रिकवरी रेट में इस दौरान कोई सुधार नहीं है। 11 सितंबर को भी यह दर 62 थी और 3 अक्टूबर को भी करीब करीब इतनी ही रही।

प्रदेश में 12 सितंबर को एक लाख संक्रमित मिलने के बाद जयपुर जिले में संक्रमण का भयावह विस्तार हुआ है। जयपुर जिले में पिछले एक सप्ताह से 400 से अधिक कोरोना पॉजिटिव सामने आ रहे हैं। वहीं 11 सितंबर से 3 अक्टूबर के दौरान प्रतिदिन नए संक्रमित मिलने का औसत 381 रहा। वहीं इन दिनों में रोजाना 1.34 औसत मौत दर्ज की गईं। जिले इस दौरान संक्रमण दर 0.83 अंक की बढ़ोतरी के साथ 4.85 से 5.68 पहुंच गई है।

यह भी पढे: राजस्थान में चार दिनों में कोरोना से रिकवरी रेट 92 प्रतिशत से ज्यादा

जिले में इन दिनों के दौरान कम्यूनिटी स्प्रेड की सबसे बड़ी तस्वीर सामने आई है। 3 अक्टूबर तक मिले कुल 22,758 में से 38 प्रतिशत मरीज इसी अवधि में मिले हैं।

राजस्थान में चार दिनों में कोरोना से रिकवरी रेट 92 प्रतिशत से ज्यादा

राजस्थान के लिए अक्टूबर महीने की शुरुआत अच्छी हुई है। शुरुआती चार दिनों में कोरोना से 8106 मरीज ठीक हो चुके हैं जबकि 8738 नए मरीज आए। इस लिहाज से रिकवरी रेट 92. 7 प्रतिशत रही है जबकि सितम्बर तक रिकवरी रेट 81. 90 था। रविवार को भी 2090 मरीज ठीक हुए हैं। अब तक 1 लाख 21 हजार 331 मरीज ठीक हो चुके हैं।

प्रदेश में मृत्युदर में भी काफी कमी आई है। अब यह 1.07 प्रतिशत पर पहुंच गई है जो कि 4 सितम्बर तक 1. 26 प्रतिशत थी। यह भी एक सुखद संकेत है।

यह भी पढे: कोरोना से लड़ाई में हाउसिंग बोर्ड की पहल पर यू डी एच मंत्री शांति धारीवाल ने की बोर्ड की तारीफ

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का कहना हैै कि अन्य राज्यों के मुकाबले हम काफी अच्छी स्थिति में हैं। हमारे यहां रिकवरी रेट बहुत अच्छी है। मृत्यु दर भी नियंत्रण में है लेकिन हम चाहते हैं मृत्यु दर शून्य पर आ जाए। उनका यह भी कहना है कि राज्य सरकार की तरफ से कोरोना के खिलाफ शुरू किए गए जनांदोलन में लोग बढ़ चढ़ कर जुड़ रहे हैं।