Rajasthan Exclusive > राजस्थान > दिवंगत रेल राज्यमंत्री अंगड़ी ने जयपुर जंक्शन को बताया था देश का मॉडल स्टेशन

दिवंगत रेल राज्यमंत्री अंगड़ी ने जयपुर जंक्शन को बताया था देश का मॉडल स्टेशन

0
142

केंद्रीय रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी अब हमारे बीच नहीं रहे। कोरोना से संक्रमित होने के कारण कल उनका निधन हो गया। वे दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती थे। Jaipur Junction Country Model Station

केंद्रीय रेल राज्यमंत्री रहते हुए सुरेश अंगड़ी 19 जनवरी को जयपुर दौरे पर आए थे। वे यहां एमएनआईटी विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में शामिल होने पहुंचे थे। लेकिन यहाँ पहुँचते ही उन्होंने जयपुर के किसी भी एक रेलवे स्टेशन का जायजा लेने की इच्छा जताई। ऐसे में उत्तर पश्चिम रेलवे के अधिकारियों ने मंत्री अंगड़ी को जयपुर के मुख्य रेलवे स्टेशन दिखाना उचित समझा। इसके बाद वे उसी दिन शाम 5 बजे जयपुर रेलवे स्टेशन का जायजा लेने पहुंचे।

यह भी पढे: आठ माह बाद कांग्रेस जनघोषणा पत्र समिति लेगी कामकाज की सुध

जयपुर रेलवे स्टेशन का जायजा लेने के बाद सुरेश अंगड़ी ने स्टेशन की जमकर तारीफ की। उन्होंने जयपुर जंक्शन को वर्ल्ड क्लास स्टेशन बताते हुए 10 में से 10 नंबर दिए। उत्तर पश्चिम रेलवे का ये कहते हुए हौसला बढाया था कि पूरे देश में जयपुर जंक्शन मॉडल लागू होना चाहिए। Jaipur Junction Country Model Station

निरीक्षण के दौरान अंगड़ी ने यात्रियों से खुद बात करते हुए स्टेशन की व्यवस्थाओं पर फीडबैक लिया था। इस पर रेलवे स्टेशन पर मौजूद यात्रियों ने जयपुर स्टेशन को अन्य स्टेशनों की तुलना में काफी सराहा था। अंगड़ी ने जयपुर जंक्शन पर अजमेर-दिल्ली शताब्दी ट्रेन के अन्दर जाकर यात्री सुविधाओं में बढ़ोतरी के लिए यात्रियों से फीडबैक भी लिया था। Jaipur Junction Country Model Station

यह भी पढे: कृषि विधेयकों के खिलाफ आज से कांग्रेस के विरोध पखवाड़े की शुरूआत

रेल निजीकरण को लेकर चल रहे गतिरोध पर भी अंगड़ी ने जयपुर दौरे के दौरान मोदी सरकार की मंशा साफ़ की। उन्होंने कहा था किसी रेल अधिकारी-कर्मचारी को घबराने की ज़रूरत नहीं है। रेल का निजीकरण यात्रियों को क्वालिटी यात्रा देने के लिए किया जा रहा है। उन्होंने कहा था कि अगले 10 साल में रेलवे पर 50 लाख करोड़ का इंवेस्टमेंट होगा। निजीकरण ट्रेन होने से रेलवे को आमदनी, यात्रियों को सुविधाएं और बेरोजगारों को रोज़गार मिलेगा।

अंडर ग्राउंड चलने वाली पहली ट्रेन जयपुर में Jaipur Junction Country Model Station

जानकारी के अनुसार भूमिगत चलने वाली पहली मेट्रो ट्रेन जयपुर में संचालित हुई। इससे पहले मानसरोवर से चांदपोल तक भी डबल डेकर रूट बनाया गया था। यह भी प्रदेश में पहला ही डबल डेकर रूट है।

बड़ी चौपड़ से मानसरोवर तक दौड़ पड़ी मेट्रो Jaipur Junction Country Model Station

जयपुरवासियों के लिए परकोटे में मेट्रो ट्रेन दौडऩे का सपना साकार हो गया है। बुधवार को बड़ी चौपड़ से मानसरोवर तक जयपुर मेट्रो दौड़ पड़ी। Jaipur Junction Country Model Station

हो गए 11 स्टेशन Jaipur Junction Country Model Station

जयपुर मेट्रो के 11 स्टेशन हो गए हैं। पहले मानसरोवर से चांदपोल तक 9 स्टेशन थे उसके बाद चांदपोल से बड़ी चौपड़ तक दो नए स्टेशन बनाए गए हैं। Jaipur Junction Country Model Station

यह भी पढे: गहलोत ने जयपुर में मेट्रो के फेज वन बी की दी सौगात

4 दरवाजे Jaipur Junction Country Model Station

बड़ी चौपड़ पर बनाए गए मेट्रो स्टेशन में यूं तो प्रवेश के लिए चार द्वार बनाए गए हैं, लेकिन कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए फिलहाल दो ही द्वार से प्रवेश दिया जाएगा। प्रवेश के बाद कोरोना संक्रमण से बचाव के एहतियाती उपाय किए जाएंगे। Jaipur Junction Country Model Station

किराया 26 रुपए Jaipur Junction Country Model Station

मेट्रो में सफर करने वाले को टिकट या कॉइन नहीं दिया जाएगा बल्कि स्मार्ट कार्ड दिया जाएगा। यात्री मोबाइल की तरह स्मार्ट कार्ड को रिचार्ज करवा सकेंगे। पहली बार यात्रा करने वाले मेट्रो स्टेशन से ही स्मार्ट कार्ड खरीद सकेंगे। जयपुर मेट्रो की साइट पर जाकर ऑनलाइन भी स्मार्ट कार्ड को रिचार्ज कर सकेंगे। बड़ी चौपड़ से मानसरोवर तक सफर के लिए यात्रियों को किराए के लिए 26 रुपए का भुगतान करना होगा।