Rajasthan Exclusive > राजस्थान > बीजेपी मेयर प्रत्याशी के पति पर पार्षदों की खरीद-फरोख्त का आरोप, ACB ने शुरू की जांच

बीजेपी मेयर प्रत्याशी के पति पर पार्षदों की खरीद-फरोख्त का आरोप, ACB ने शुरू की जांच

0
114

विधानसभा के बाद अब नगर निगम चुनाव में भी नेताओं की खरीद-फरोख्त का मामला सामने आया है। जयपुर हेरिटेज से कांग्रेस के वार्ड 42 पार्षद दशरथ सिंह ने भाजपा प्रत्याशी कुसुम यादव के पति अजय यादव पर पार्षद चुनाव में खरीद-फरोख्त का आरोप लगते हुए इसकी शिकायत भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को कर दी है। ब्यूरो ने आरोप कि जांच भी शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक़ कांग्रेस पार्षद दशरथ सिंह ने पैसे के बल पर पार्षदों की खरीद-फरोख्त करने की बाकायदा एक रिकॉर्डिंग भी अधिकारियों को पेश की है। एसीबी सबूत के तौर पर दी गई पेन ड्राइव की रिकॉर्डिंग की सत्यता की जांच करेगी। एसीबी ने जहां परिवाद लेकर जांच शुरू कर दी है तो वहीं इस प्रकरण को लेकर कांग्रेस ने भी दोषियों पर फ़ौरन कार्रवाई की मांग पुरजोर तरीके से उठाना शुरू कर दिया है।

यह भी पढे: केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल और सांसद कनकमल कटारा के पुत्र भी जिला परिषद चुनाव में प्रत्याशी

बताया गया है कि कांग्रेस पार्षद ने एसीबी को जो ऑडियो रिकॉर्डिंग दी है उसमें लाखों से करोड़ों तक की सौदेबाजी की बात हो रही है। मेयर प्रत्याशी के पति अजय यादव पर आरोप है कि वे धनराशी का लालच देने के साथ ही समितियों का चेयरमैन बनाने, कई तरह की सुविधाएं देने, नगर निगम से सरकारी वाहन उपलब्ध कराने सहित वार्ड में कोई भी काम कराने पर कमीशन देने पेशकश कर रहे हैं।

उधर मेयर प्रत्याशी के पति अजय यादव ने आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा है कि यह आरोप पूरी तरह बेबुनियाद है। उन्होंने कहा कि मैं वॉइस सैंपल देने के लिए तैयार हूं। ये मेरी आवाज नहीं है।