Rajasthan Exclusive > राजस्थान > लेडी डॉन अनुराधा ने वीडियो कॉल कर मांगी रंगदारी

लेडी डॉन अनुराधा ने वीडियो कॉल कर मांगी रंगदारी

0
188
  • मामले में पुलिस ने एक आरोपी को किया गिरफ्तार

  • रिपोर्ट के आधार पर कुचामन पुलिस ने आईपीसी की धारा 384 में मुकदमा दर्ज

राजस्थान में कभी खौफ का पर्याय रहे आनंदपाल सिंह की गैंग के सक्रिय होने की आहट दोबारा मिलने लगी है।

जानकारी के मुताबिक कुचामन में लेडी डॉन अनुराधा चौधरी ने वीडियो कॉल के जरिए सुनील नाम के शख्स को वसूली के लिए धमकाया है।

डीडवाना एएसपी संजय गुप्ता ने बताया कि कुचामन निवासी सुनिल ने थाने में एक रिपोर्ट दी, जिसके मुताबिक बीती 25 अगस्त को दो युवक मास्क लगाए हुए उसके घर आए।

इसके बाद उन्होंने अपने फोन से वीडियो कॉल के जरिए लेडी डॉन अनुराधा से बात कराई।

वीडियो कॉल पर अनुराधा ने सुनील को धमकाते हुए कहा कि जो वसूली के रूप में वे आनंदपाल गैंग से हिसाब -किताब पहले किया करते थे वो फिर से शुरू कर दें।

यह भी पढे: कोटा में आज और कल शाम 5 बजे तक लॉकडाउन

लेडी डॉन अनुराधा से वीडियो कॉल करवाने आए दोनों युवकों ने इस दौरान सुनील को धमकाया और जान से मारने की धमकी दी।

रिपोर्ट के आधार पर कुचामन पुलिस ने आईपीसी की धारा 384 में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की ।

पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है।

बनाई जा चुकी है विशेष टीम

इस मामले के सामने आने के बाद पुलिस ने प्रेस कांफ्रेंस कर जानकारी दी है।

मामले की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक श्वेता धनकड़ के निर्देशानुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय गुप्ता ,

वृताधिकारी मोटाराम के निर्देशन में थानाधिकारी रामवीर के नेतृत्व में मुख्य आरक्षी गजेन्द्रसिंह, पर्वतसिंह, कांस्टेबल

राजुराम, हेमराम, हंसराज की विशेष टीम बनाई गई है।

यह भी पढे: अलवर सिलीसेढ़ बांध में आया 3 इंच पानी

एएसपी संजय गुप्ता ने बताया कि पुलिस टीम ने तत्परता से कार्रवाई करते हुए बहादुर सिंह को बापर्दा गिरफ्तार कर लिया है ।

अब लेडी डॉन की तलाश

पुलिस मामले के अन्य आरोपियों श्याम सिंह और अनुराधा चौधरी की तलाश में संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है।

दोनों की तलाश में पुलिस की टीम जुटी है।

बताया जा रहा है कि लेडी डॉन आनंदपाल की बेहद करीबी रही थी।

उसने आनंदपाल के ईशारे पर कई वारदातों को अंजाम दिया था।

यहां तक की जेल से कोर्ट पेशी ले जाते वक्त आनंदपाल को फरार कराने में भी लेडी डॉन अनुराधा की बड़ी भूमिका बताई जाती है।