Rajasthan Exclusive > राजस्थान > राजस्थान-गुजरात सीमा पर फिर गहराया जमीन विवाद, आदिवासियों में जमकर चले तीर व पत्थर

राजस्थान-गुजरात सीमा पर फिर गहराया जमीन विवाद, आदिवासियों में जमकर चले तीर व पत्थर

0
588

जयपुर: राजस्थान के उदयपुर जिले से गुजरात राज्य की सीमा लगती है। यहां दोनों ओर के आदिवासियों में कई दशकों से विवाद चला आ रहा है। सीमा पर जमीनों के छोटे-छोटे टुकड़ों पर दोनों तरफ के आदिवासी अपना-अपना हक जमाते हैं और इसी के चलते कई बार इनमें खूनी संघर्ष भी हो जाती है। आदिवासियों के इस विवाद को सुलझाने की कई बार कोशिश हुई, लेकिन सारे प्रयास असफल साबित हुए। शुक्रवार को एक बार फिर कोटडा थानाक्षेत्र के महाडी-वियोल गांव की सीमा पर दोनों राज्यों के आदिवासी आमने-सामने हो गए। इस दौरान दोनों ओर जमकर पत्थर और तीर बरसाये गये. जिसमें एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया. वहीं कइयों को चोटें भी आई हैं। झड़प की सूचना मिलते ही कोटडा थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को शांत कराया. घायल युवक को हॉस्पिटल पहुंचाया गया. इस सिलसिले में थाने में केस भी दर्ज कराया गया है।
सालों से जारी है संघर्ष

स्थानीय लोगों ने बताया कि सीमा से सटे इलाकों में जमीनों को लेकर सालों से विवाद जारी है। दोनों ओर के आदिवासी जमीन पर अपना-अपना हक जमाते हैं। कोटडा थानाक्षेत्र में पडऩे वाला एक भूखंड पर भी विवाद है। इस जमीन पर गुजरात की तरफ से कुछ लोगों ने पहले खेती कर ली, जबकि राजस्थान वाले लोगों ने भी इस पर अपना हक जताया। इसी बात को लेकर दोनों पक्ष आमने-सामने हो गए और खूनी संघर्ष शुरू हो गया।

सीमा पर इस जमीन विवाद को खत्म कराने के लिए 22 जून को सरकार स्तर पर प्रयास शुरू किए गए हैं। इसके तहत दोनों ओर के वरिष्ठ अधिकारियों ने मौके का मुआयना किया और रिपोर्ट अपनी-अपनी सरकार को सौंपी. इस पहल से यह उम्मीद जगी है कि ये विवाद जल्द सदा के लिए सुलझ जाएगा.