Rajasthan Exclusive > राजस्थान > भाजपा विधायक कालीचरण सर्राफ की मांग, यूपी की तर्ज पर राजस्थान में लागू हो लॉकडाउन

भाजपा विधायक कालीचरण सर्राफ की मांग, यूपी की तर्ज पर राजस्थान में लागू हो लॉकडाउन

0
269

भाजपा विधायक और पूर्व चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ ने कहा कि प्रदेश को संक्रमण से बचने के लिए गहलोत सरकार को उत्तर प्रदेश सरकार की तरह लॉकडाउन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार को पूरे प्रदेश मे शनिवार—रविवार का संपूर्ण लॉकडाउन और जयपुर में कोरोना के संवेदनशील क्षेत्रों सांगानेर, मानसरोवर, मालवीय नगर मे 15 दिन का संपूर्ण लॉकडाउन करना चाहिए, जिससे दीपावली के दिनों में आम जनता को त्योहार के समय बीमारियों से जूझना ना पड़े।

सर्राफ ने कहा कि जयपुर में कोरोना कि विस्फोटक होती स्थिति मुख्यमंत्री गहलोत के झूठे दावो की पोल खोल रही है। जयपुर में वेंटिलेटर एवं ऑक्सीजन युक्त आईसीयू बेड की जबरदस्त कमी दिखाई दे रही है जिससे कोरोना के मरीजों को समय पर उचित इलाज नहीं मिल पा रहा है।

यह भी पढे: हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी बढ़ती निजी स्कूलों की मनमानी

सर्राफ ने कहा कि दिन प्रतिदिन कोरोना संक्रमितों की संख्या में वृद्धि हो रही है और मरीज इलाज के अभाव मे दर—दर भटक रहे हैं, इसलिए एसएमएस अस्पताल के एक हिस्से को कोविड डेडीकेटेड घोषित कर आम जन को राहत पहुंचाने की व्यवस्था मुख्यमंत्री को करनी चाहिए। उन्होंने सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन युक्त बेड की संख्या में वृद्धि की भी मांग की।

1981 नए पॉजिटिव केस सामने आए

राजस्थान में गुरुवार को कोरोना के 1981 मामले सामने आए। इनमें जयपुर में 381, जोधपुर में 308, भीलवाड़ा में 133, उदयपुर में 103, अलवर में 92, जालौर में 91, बीकानेर में 86, अजमेर में 74, सीकर में 70, पाली में 59, नागौर में 51, कोटा में 46, भरतपुर में 37, टोंक और झुंझुनू में 35-35, धौलपुर और बांसवाड़ा में 33-33, गंगानगर में 32, झालावाड़ में 30, राजसमंद में 29, चूरू में 28, बाड़मेर में 27, सिरोही में 26, डूंगरपुर में 25, दौसा में 22, बूंदी में 19, सवाई माधोपुर में 13, चित्तौड़गढ़ और बारां में 12-12, प्रतापगढ़, करौली और जैसलमेर में 11-11, हनुमानगढ़ में 6 संक्रमित मिले।

जिसके बाद राज्य में कुल पॉजिटिव लोगों का आंकड़ा 122720 पहुंच गया। वहीं, 15 लोगों की मौत हो गई। इनमें जोधपुर में 2, अजमेर, अलवर, बांसवाड़ा, बारां, भरतपुर, बीकानेर, बूंदी, गंगानगर, जयपुर, जालौर, प्रतापगढ़, सीकर और टोंक मे 1-1 की मौत हो गई। जिसके बाद मौत का कुल आंकड़ा 1397 पहुंच गया।

राज्य में जोधपुर में सबसे ज्यादा संक्रमित

प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जोधपुर में हैं। यहां अब तक 18227 मरीज मिल चुके हैं। इसके बाद जयपुर में 19001, अलवर में 10168 केस सामने आए हैं। इसी तरह, अजमेर में 6343, बांसवाड़ा में 1117, बारां में 1210, बाड़मेर में 2655, भरतपुर में 4211, भीलवाड़ा में 3515, बीकानेर में 5942, बूंदी में 1171, चित्तौड़गढ़ में 1514, चूरू में 1568, दौसा में 895, धौलपुर में 2763, डूंगरपुर में 1603, गंगानगर में 1246, हनुमानगढ़ में 773, जैसलमेर में 718, जालौर में 1973, झालावाड़ में 2320, झुंझुनूं में 1484, करौली में 799, कोटा में 8647, नागौर में 3323, पाली में 5303, प्रतापगढ़ में 746, राजसमंद में 1687, सवाई माधोपुर में 820, सीकर में 3801, सिरोही में 1786, टोंक में 1144, उदयपुर में 3910 केस सामने आ चुके हैं।

यह भी पढे: कोरोना काल में संक्रमण और बुजुर्ग माता-पिता की सेवा का ले रहे बहाना

प्रदेश में अब तक 1397 मरीजों की मौत

राजस्थान में कोरोना से अब तक 1397 मरीजों की जान जा चुकी है। इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 305 मरीजों की मौत हुई। इसके अलावा जोधपुर में 138, कोटा में 94, बीकानेर में 105, भरतपुर में 75, अजमेर में 92, पाली में 56, नागौर में 45, उदयपुर में 45, धौलपुर में 23 और सिरोही में 16 मरीजों की जान गई है।

वहीं, अलवर में 37, सीकर में 29, बाड़मेर में 25, ​राजसमंद में 19, सवाई माधोपुर में 16, भीलवाड़ा में 16, बारां में 17, डूंगरपुर में 13, गंगानगर में 10, जालौर में 14, ​करौली में 8, टोंक में 17, चित्तौड़गढ़ में 16, चूरू में 10, बांसवाड़ा में 14, दौसा में 8, झुंझुनूं​ में 6 और प्रतापगढ़ में 9, सिरोही में 13, झालावाड़ में 10, जैसलमेर में 8, बूंदी में 5, हनुमानगढ़ में 4 की मौत हो चुकी है। वहीं, दूसरे राज्यों के 39 मरीजों की भी मौत हुई है।
राज्य में अब तक 29.35 लाख से ज्यादा सैंपल जांचे जा चुके हैं। इनमें कुल 120739 पॉजिटव मिले हैं। इनमें 100365 लोग रिकवर हो चुके हैं। इसमें से 98986 को डिस्चार्ज किया जा चुका है। अब राज्य में कुल 18992 एक्टिव केस बचे। इसके अलावा अब तक 9985 प्रवासी राजस्थानी भी संक्रमित मिले हैं।