Rajasthan Exclusive > राजस्थान > जयपुर जिले में 150 हेक्टेयर क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण, कीटनाशक छिड़काव के लिए किया ड्रोन का उपयोग

जयपुर जिले में 150 हेक्टेयर क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण, कीटनाशक छिड़काव के लिए किया ड्रोन का उपयोग

0
213

जयपुर: कृषि विभाग एवं टिड्डी चेतावनी संगठन (एलडब्ल्यूओ) ने शनिवार रात्रि को जयपुर जिले में दो स्थानों पर अभियान चलाकर 150 हेक्टेयर क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण किया. एक स्थान पर कीटनाशक छिड़काव के लिए ड्रोन का उपयोग किया. कृषि विभाग को विराटनगर के पास छिंड, बिहाझर एवं जोधुला में टिड्डी दल होने की जानकारी मिली. विभागीय अधिकारियों-कार्मिकों ने मौके पर पहुंचकर सर्वे कर एक किलोमीटर चौड़ा और 3 किलोमीटर लंबे टिड्डी दल का करीब 230 हेक्टेयर क्षेत्र में प्रभाव पाया.

उप निदेशक कृषि विस्तार बीआर कड़वा के नेतृत्व में विभागीय कार्मिकों और स्थानीय काश्तकारों के सहयोग से आधी रात को टिड्डी नियंत्रण का काम चालू किया गया. यहां दुर्गम एवं पहाड़ी इलाका होने की वजह से ड्रोन के माध्यम से भी कीटनाशक छिड़काव किया गया. इसके अलावा एलडब्ल्यूओ के 4 वाहनों तथा 3 ट्रैक्टर माउंटेड स्प्रेयर का उपयोग किया गया. रविवार सुबह तक चले अभियान में यहां 50 लीटर कीटनाशक का छिड़काव कर 105 हेक्टेयर में टिड्डी नियंत्रित की गई.

इसी प्रकार शनिवार सायं स्थानीय किसानों ने आमेर तहसील क्षेत्र में हसन तलाई और खोर मीना में टिड्डी होने की सूचना दी. कृषि विभाग के अधिकारियों ने तुरंत मौके पर पहुंचकर सर्वे कार्यवाही की जिसमें यहां अपेक्षाकृत छोटे टिड्डी दल का ठहराव पाया गया. डेढ़ किलोमीटर लंबे और 300 मीटर चौड़े इस टिड्डी दल से 80 हेक्टेयर क्षेत्र प्रभावित मिला. अर्द्ध रात्रि को उप निदेशक उद्यानिकी दानवीर वर्मा की अगुवाई में विभागीय कार्मिकों और किसानों ने मिलकर टिड्डी नियंत्रण अभियान चलाया. एलडब्ल्यूओ के 2 वाहनों और 3 ट्रेक्टर माउंटेंड स्प्रेयर की मदद से 20 लीटर कीटनाशक छिड़काव कर 45 हेक्टेयर क्षेत्र में टिड्डी को नष्ट किया गया.