Rajasthan Exclusive > राजस्थान > जयपुर सहित प्रदेश के कई जिलों में बारिश का दौर शुरू

जयपुर सहित प्रदेश के कई जिलों में बारिश का दौर शुरू

0
245

राजस्थान में एक बार फिर मानसून सक्रिय होता हुआ दिखाई दे रहा है.

जयपुर सहित कई जिलों में बारिश का दौर शुरू हो गया है, प्रदेश की जयपुर सहित करीब 13 से अधिक जिलों में आज सुबह ही मौसम विभाग में तेज बारिश की संभावना जताई थी.

इसके बाद आज शाम को 4:00 बजे जयपुर सहित अधिकांश जिलों में बारिश का दौर शुरू हो गया है.

जयपुर में पिछले 1 घंटे से भी अधिक समय से रुक-रुक कर बारिश हो रही है.

मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जयपुर में करीब 10 एमएम से भी अधिक बारिश अब तक हो चुकी है और अभी भी बारिश का दौर जारी है

प्रदेश के 29 जिलों में बारिश की संभावना

पूरे राजस्थान में एक बार फिर से मानसून के सक्रिए हो जाने के कारण मौसम विभाग ने इक्का-दुक्का इलाकों को छोड़कर सभी जिलों में बारिश की संभावनाएं जताई हैं.

मौसम विभाग के अनुसार, लगभग पूरे प्रदेश में मेघगर्जन के साथ बारिश हो सकती है.

मौसम विभाग के अनुसार अजमेर, अलवर, बांसवाड़ा, बारां, भरतपुर, भीलवाडा, बूंदी, चित्तौड़, दौसा, धौलपुर, डूंगरपुर, जयपुर, झालवाड़, झुंझुनूं, करौली, कोटा, प्रतापगढ, राजसमंद, सवाईमाधोपुर, सीकर, सिरोही, टोंक, उदयपुर, बीकानेर, चूरू, हनुमानगढ, नागौर और श्राीगंगानगर जिले में कहीं- कहीं पर मेघगर्जन के साथ बारिश हो सकती है.

यह भी पढे: राजस्थान में मेघ गर्जना के साथ 11 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, जारी किया गया अलर्ट

इस दौरान कुछ जिलों में 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं

यह है मानसून की सक्रियता का कारण

दरअसल, वर्तमान में बंगाल की खाड़ी, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के आसपास एक अति कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है.

इसके ओडिशा, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश होते हुए दक्षिण गुजरात की तरफ बढ़ने की संभावना है.

इसके कारण प्रदेश के कई हिस्सों में मानसून की सक्रियता बढ़ने के आसार हैं.

कुछ इलाकों में 65 से 115 मिलीमीटर तक बारिश भी हो सकती है.

बुधवार को कई इलाकों में हुई बारिश

बुधवार को प्रदेश के कई इलाकों में झमाझम बारिश का दौर देखने को मिला.

मौसम विभाग के अनुसार चित्तौड़गढ़ में 29 मिलीमीटर, उदयपुर में 18, अजमेर में 17, वनस्थली में 11, फलौदी में 8 और भीलवाड़ा में 4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है.

बारिश से इन इलाकों में तापमान में गिरावट दर्ज की गई.