Rajasthan Exclusive > राजस्थान > कोरोना मरीजों को लेकर राज्य सरकार का बडा फैसला

कोरोना मरीजों को लेकर राज्य सरकार का बडा फैसला

0
285

कल राज्य सरकार (Rajasthan Govermant Corona News) ने एक बड़ा फ़ैसला लिया है. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कोविड संक्रमित मरीजों (Rajasthan Govermant Corona News) को राहत देते हुए कोरोना से संक्रमित मरीजों के परिजनों को पीपीई किट व अन्य सुरक्षित साधनों के साथ मरीजों से मिलने व उन्हें भोजन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं. चिकित्सा विभाग के प्रमुख शासन सचिव अखिल अरोरा ने कोरोना से संक्रमित मरीजों के एकाकीपन व उसके कारण उत्पन्न तनाव को दृष्टिगत रखते हुए यह निर्देश जारी किए हैं.

निर्देशों के अनुसार कोविड-19 से संक्रमित मरीज (Rajasthan Govermant Corona News) जो राजकीय/निजी चिकित्सालयों में उपचाररत हैं, उनसे उनके परिजनों/रिश्तेदारों को समस्त सुरक्षात्मक उपाय (यथा पीपीई किट, मास्क, दस्ताने, नियत दूरी आदि) अपनाते हुए अस्पताल द्वारा तय समय अवधि में मिल सकते हैं. साथ ही मरीज (Rajasthan Govermant Corona News) के परिजन/रिश्तेदार यदि मरीज को घर का खाना देना चाहते हैं तो निर्धारित प्रॉटोकॉल के अनुसार दे सकते हैं.

निर्देश में यह भी कहा गया है कि कोविड डेडिकेटेड अस्पतालों में बैड क्षमता को देखते हुए, उपचार हेतु आने वाले मरीजों (Rajasthan Govermant Corona News) की सुविधा व आपात स्थिति को दृष्टिगत रखते हुए पर्याप्त संख्या में व्हील चेयर/स्ट्रेचर एवं छोटे ऑक्सीजन सिलेण्डर हैल्प डेस्क पर उपलब्ध रखा जाना सुनिश्चित करें.

यह भी पढे: राजस्थान में कोरोना बेलगाम, संक्रमितों की संख्या 1 लाख के पार

जिससे आपात स्थिति में आवश्यकता होने पर मरीज़ (Rajasthan Govermant Corona News) को व्हील चेयर/स्ट्रेचर पर ही लो फ्लो ऑक्सीजन, सिलेण्डर के माध्यम से उपलब्ध करावें ताकि मरीज को आपातकालीन स्थिति में तत्काल राहत देते हुए मरीज की स्थिति को स्थिर किया जा सके.

राजस्थान में कोरोना बेलगाम

राजस्थान में शुक्रवार की सुबह 814 और लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए हैं । प्रदेश में अब तक कुल 1 लाख 8 494 लोग शिकार हुए हैं। लेकिन रिकवरी रेट अच्छी होने के कारण प्रदेश में अब 17838 लोग ही संक्रमित हैं। जिन का इलाज अस्पताल या फिर होम आइसोलेशन में जारी है।

सुबह-सुबह 7 और लोगों की जान कोरोना ने ले ली है। प्रदेश में कोरोना  से होने वाली मौतों की संख्या 1286 हो गई है। शुक्रवार को सुबह आए रोगियों में सर्वाधिक रोगी जयपुर में 134 है। वहीं जोधपुर में 119 नए संक्रमित आए हैं ।

कोरोना को लेकर राजस्थान सरकार गंभीर

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बैठक से निकले प्रस्ताव को जयपुर के कारोबारियों ने लागू कर दिया हैं। जयपुर के एमआई रोड बाजार से तीन दिवसीय विशेष जागरूकता अभियान की शुरूआत हुई हैं। चारदीवारी के 32 हजार और जयपुर शहर के सवा लाख कारोबारी यह प्रण लेंगे की बिना मास्क दूकान में किसी की एंट्री नहीं हो।

यह भी पढे: भाजपा विधायक कालीचरण सराफ ने मुख्यमंत्री गहलोत पर क्षेत्रवाद का आरोप लगाते हुए जोधपुर के साथ जयपुर को भी बचाने की बात कही

कार्यालयों में भी इसे प्रमुखता से लागू किया जाएगा। पुलिस, प्रशासन और कारोबारी मिलकर सुरक्षा चक्र बनाएगें।कोरोना सिंतबर माह में बेकाबू हैं।

सितंबर माह के पहले पचावाड़े में ही कोरोना संक्रमितों का आकड़ा पांच हजार के करीब हें। अस्पतालों की सुविधा भी जवाब देने लगी हैं, गुलाबी नगरी का ऐसी कोई कॉलोनी नहीं जहां संक्रमित नहीं मिला हो। कोरोना का वायरस अनलॉक हैँ। वैक्सीन और दवा का इंतजार लगातार लंबा होता जा रहा हैं.

ऐसे में अब आम लोग सुरक्षा गाइड लाइन की पालना कडा़ई से करें तो कोरोना की चेन ब्रेक होने की संभावना अधिक हैं। जयपुर के दो लाख वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों ने कोरोना को हराने की जिद ठानी हैं।

अपने व्यावसायिक और कारोबारी स्थलों पर बिना मास्क किसी भी एंट्री नहीं करेंगे। वहीं सेनेटाइजर, शोशल डिस्टेंसिंग की पालना पर भी फोकस होगा। जयपुर व्यापार महासंघ के बैनर तले 18 सिंतबर तक जयपुर के सभी बाजारों में विशेष अभियान संचालित कर उपभोक्ता और कारोबारी दोनों को जागरूक किया जाएगा।

जिला कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा, आयुक्त जयपुर हेरिटेज नगर निगम लोकबंधु सहित व्यापारी की मौजूदगी में इस कार्यक्रम की शुरूआत हुई।