Rajasthan Exclusive > राजस्थान > निकाय चुनाव: 65 से ज्‍यादा उम्र वालों को भाजपा नहीं देगी टिकट, वार्ड बदलने की भी अनुमति नहीं

निकाय चुनाव: 65 से ज्‍यादा उम्र वालों को भाजपा नहीं देगी टिकट, वार्ड बदलने की भी अनुमति नहीं

0
98

प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया और संगठन महामंत्री चन्द्रशेखर ने चुनाव प्रभारियों एवं अन्य नेताओं के साथ लम्बी मंत्रणा कर चुनाव को लेकर गाइड लाइन तय की है। गाइड लाइन के अनुसार इस बार नगर निगम चुनाव में भाजपा 65 वर्ष से अधिक उम्र के व्‍यक्ति को टिकट नहीं देगी। साथ ही किसी प्रत्‍याशी को वार्ड बदलने की अनुमति नहीं देगी। प्रदेश में सत्ता बदलने के बाद जयपुर नगर निगम में क्रॉस वोटिंग करने वाले पार्षदों को भी टिकट से दूर रखा जाएगा।

भाजपा की इस मंथन बैठक में प्रदेश महामंत्री एवं विधायक मदन दिलावर, विधायक वासुदेव देवनानी, प्रदेश मुख्य प्रवक्ता एवं विधायक रामलाल शर्मा, प्रदेश मंत्री जितेन्द्र गोठवाल, विधायक एवं पूर्व मेयर अशोक लाहोटी, पूर्व मेयर निर्मल नाहटा आदि मौजूद रहे। इसमें आए सुझावों के बाद तय किया गया कि पार्षद का चुनाव लडऩे वाला प्रत्याशी उसी वार्ड का निवासी हो, उसे वार्ड बदलने की अनुमति नहीं होगी।

यह भी पढे: कोरोना संक्रमण को देखते हुए निर्वाचन अधिकारियों को खास इंतजाम करने के निर्देश

विशेष परिस्थितियों में पार्टी की प्रदेश समन्वयक समिति वार्ड बदलने पर निर्णय करेगी। यह भी तय किया गया कि टिकट देने में कार्यकर्ता को ही प्राथमिकता दी जाए। कोई वर्तमान पार्षद की जीत की संभावना दिखती है तो उसे भी टिकट दिया जाए। चाहे कितनी ही बार चुनाव लड़ चुका हो। पिछली बैठक में सुझाव आया था कि पार्टी दो बार पार्षद का चुनाव लडऩे वालों को टिकट नहीं देगी, लेकिन इस सुझाव को खारिज कर दिया गया।

भाजपा ने जयपुर हैरिटेज के नगर निगम चुनाव प्रभारी एवं सांसद राजेन्द्र गहलोत की अस्‍वस्‍थता के कारण पूर्व मंत्री वासुदेव देवनानी को प्रभारी बनाया गया है। देवनानी पहले भी जयपुर में पार्टी की ओर से कई जिम्मेदारियां संभाल चुके हैं।