Rajasthan Exclusive > राजस्थान > राजस्थान में कोरोना विस्फोट: 24 घंटे में रिकॉर्ड 1640 नए केस

राजस्थान में कोरोना विस्फोट: 24 घंटे में रिकॉर्ड 1640 नए केस

0
211

राजस्थान में कोरोना (Rajasthan OutBreak Coronavirus) का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. कोरोना मरीजों (Rajasthan OutBreak Coronavirus) की संख्या बढ़ती जा रही है. गुरुवार को प्रदेश में 1640 नए पॉज़िटिव केस सामने आए हैं, जबकि 14 मरीजों की मौत हो गई. वहीं कोरोना के इलाज के बाद 1032 मरीज ठीक भी हुए है.

राजधानी जयपुर (Rajasthan OutBreak Coronavirus) में सबसे अधिक 329 नए केस सामने आये है. जोधपुर से 320 नए केस, अजमेर 50,अलवर 56,बांसवाड़ा 28, बारां 23, बाड़मेर 24, भरतपुर 26 पॉजिटिव, भीलवाड़ा 28, बीकानेर 40, बूंदी 31,चित्तौड़गढ़ 25, चूरू 29, दौसा 5 पॉजिटिव, धौलपुर 32, डूंगरपुर 19, गंगानगर 26, हनुमानगढ़ 24, जयपुर 329 पॉजिटिव, जैसलमेर 14,जालोर 20, झालावाड़ 39, झुंझुनूं 25, जोधपुर 320, करौली 3 पॉजिटिव, कोटा 177, नागौर 43, पाली 37, प्रतापगढ़ 10, राजसमंद 9,सवाईमाधोपुर 20 पॉजिटिव, सीकर 55,सिरोही 32, टोंक 20, उदयपुर में 19 पॉजिटिव केस मिले है.

राजस्थान (Rajasthan OutBreak Coronavirus) में एक्टिव मरीजों की संख्या 15 हजार 702 है, जिनका इलाज जारी है. प्रदेश में कुल पॉजिटिव मरीजों (Rajasthan OutBreak Coronavirus) की संख्या 97 हजार 376 है. वहीं कुल पॉजिटिव में से 80 हजार 482 लोग इलाज के बाद रिकवर्ड हुए है. अब तक कोरोना की वजह से राजस्थान में 1192 मरीजों की मौत हो चुकी है.

यह भी पढे: बिना लक्षणो के संक्रमित होटलो में ही निर्धारित दरो पर उपचार करा शकेगें

उधर देश की राजधानी दिल्ली में भी कोरोना पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ बढ़ता जा रहा है. पिछले 24 घंटे में दिल्ली में 4308 नए पॉजिटिव मरीज सामने आये है, अब तक के दिल्ली के सभी रिकॉर्ड टूट गए है. इसी के साथ यहां कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 2 लाख 5 हजार 482 हो गई है.

गत 24 घंटे में 28 लोगों की कोरोना की चपेट में आने से मौत हो गई. अब मृतकों की कुल संख्या 4 हजार 666 हो गई है. वहीं इलाज के बाद दिल्ली में अब तक 1 लाख 75 हजार 400 मरीज ठीक हुए है. जानकारी के मुताबिक इस वक्त दिल्ली में 25 हजार 416 मरीज हैं. आपको बता दें कि दिल्ली में 1272 कंटेनमेंट जोन हैं.

यह भी पढे: सीकर में 3284 कोरोना मरीजों में से 88 फीसदी हुए स्वस्थ

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक कोविड की जांच की संख्या बढ़ाने और मामलों के बढ़ने के कारण कंटेनमेंट जोन की संख्या में इजाफा हो रहा है.दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि तेजी से और बड़े पैमाने पर जांच के कारण नए मामलों की संख्या बढ रही है और यह 10-15 दिनों में स्थिर हो जाएगा

सीकर में 3284 कोरोना मरीजों में से 88 फीसदी हुए स्वस्थ

राजस्थान के सीकर (Rajasthan OutBreak Coronavirus) जिले में बुधवार को स्वास्थ्य भवन के एक कर्मचारी सहित फिर 16 नए कोरोना पॉजिटिव (Rajasthan Corona Update)केस मिले। वहीं, 54 मरीज कोविड केन्द्रों से स्वस्थ होकर घर पहुंचे। मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अजय चौधरी ने बताया कि बुधवार को सीकर शहर में चार, नीमकाथाना व फतेहपुर ब्लॉक में तीन-तीन, लक्ष्मणगढ में दो, कूदन, पिपराली, श्रीमाधोपुर और दांता ब्लॉक में एक-एक नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए।

यह भी पढे: 96 हजार से ज्यादा हो चुके हैं प्रदेश में संक्रमित 15,000 से ज्यादा का चल रहा है इलाज

इसके बाद सीकर जिले में कोरोना (Rajasthan Corona Update)के कुल मरीजों की संख्या 3 हजार 284 हो गई। इनमें से 366 मरीजों का फिलहाल कोविड केन्द्रों पर उपचार चल रहा है। डॉ. चौधरी ने बताया कि बुधवार को मिले कोरोना मरीजों के उपचार के साथ प्रभावित इलाकों में सर्वे, सैंपलिंग व सेनिटाइजेशन की कवायद की गई है।

88.06 फीसदी हुई रिकवरी रेट

इधर, सीकर जिले में बुधवार को 54 मरीज स्वस्थ होने पर रिकवरी रेट में भी बढ़ोत्तरी हुई। जिले में अब तक 2 हजार 892 कोरोना मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। इसके आधार पर रिकवरी रेट 88.06 फीसदी पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मार्च से अब तक सीकर शहर में कोरोना पॉजिटिव मिले 906 व्यक्तियों में से 833 स्वस्थ हो चुके हैं।

बिना लक्षणो के संक्रमित होटलो में ही निर्धारित दरो पर उपचार करा शकेगें

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि प्रदेश के उन एसिंप्टोमेटिक कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए होटलों की दरें निर्धारित की हैं, जो निजी कमरों में रहना चाहते हैं। राज्य सरकार ने चयनित अस्पतालों को जरूरी जांच के बाद ऐसे मरीजों को होटल भेजने के लिए अधिकृत किया है।

डॉ. शर्मा ने बताया कि जो सामान्य और बिना लक्षणों के मरीज हैं और जिनकी स्थिति गंभीर नहीं है। ऐसे मरीजों को अलग कमरे और चिकित्सकों की निगरानी में देखरेख की जरूरत होती है। सरकार ने आमजन की मंशा जान 5 हजार, 4 हजार और 3 हजार रुपए प्रतिदिन के अनुसार होटल्स को अधिकृत किया है, जोकि सभी जरूरी और चिकित्सकीय सुविधाएं इस श्रेणी के मरीजों को उपलब्ध कराएगी।