Rajasthan Exclusive > राजस्थान > पायलट के मीडिया एडवाइजर लोकेन्द्र सिंह पर एफ आई आर दर्ज हुई

पायलट के मीडिया एडवाइजर लोकेन्द्र सिंह पर एफ आई आर दर्ज हुई

0
180

सचिन पायलट के मीडिया एडवाइजर लोकेन्द्र सिंह तथा एक न्यूज चैनल के पत्रकार पर जयपुर के विधायकपुरी थाने में आई पी सी और आई टी एक्ट की धाराओं के तहत एफ आई आर दर्ज हुई है. जयपुर पुलिस की छवि खराब करने के आरोप में खुद पुलिस कमिश्नर के स्तर पर यह एफ आई आर दर्ज करवाई गई है.

सूत्रों ने खुलासा किया है कि अगस्त में जैसलमेर में विधायकों की बाड़ेबंदी के दौरान फोन टेपिंग की खबरें आई थी. लेकिन गहलोत सरकार ने इसका खंडन किया था. फोन टेपिंग को लेकर गलत तथ्यों के आधार पर खबरें वायरल करने का आरोप है. अब कल विधायकपुरी पुलिस ने दोनों आरोपियों को पूछताछ के लिए बुलाया है. इस “डवलपमेंट” को लेकर पायलट कैम्प के मीडिया सूत्रों में बड़ी हलचल है.

यह भी पढे: थानागाजी गैंगरेप के 4 दोषियों को कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद की सजा

लोकेन्द्र सिंह के खिलाफ एफ आई आर को लेकर पायलट गंभीर हैं. पायलट से जुड़े सूत्रों ने पायलट द्वारा ये मुद्दा राहुल गांधी के स्तर पर उठाने के संकेत दिए हैं. पायलट की शिकायत पर क्या राहुल के रेस्पॉन्स को लेकर पायलट कैम्प मौन है.
दूसरी ओर इस घटनाक्रम पर गहलोत कैम्प से जुड़े सूत्रों ने खुलासा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री या सरकार का इस मामले से कोई लेना देना नहीं है. जयपुर पुलिस ने आपराधिक कानून के तहत मामला दर्ज किया है और अब स्वतंत्र और निष्पक्ष रूप से कानून अपना काम करेगा.

इसी बीच स्टेट बीजेपी चीफ सतीश पूनिया भी इस एफ आई आर मामले में मैदान में कूद गए हैं. उन्होंने कहा कि सरकार लोकतंत्र पर खतरे की बड़ी-बड़ी बातें करती है. अब सरकार ही लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के दमन पर उतर गई है. इसका कारण यह है कि विगत दिनों पत्रकारों ने वंचितों और अबलाओं की रक्षा के लिए आवाज बुलंद की है. उधर जयपुर पुलिस से जुड़े सूत्रों ने इस एफ आई आर के किसी भी तरह राजनीति से प्रेरित नहीं होने का दावा किया.