Rajasthan Exclusive > धर्म > देश में दिखा मुहर्रम का चांद, 30 अगस्त को मनाया जाएगा यौमे आशूरा

देश में दिखा मुहर्रम का चांद, 30 अगस्त को मनाया जाएगा यौमे आशूरा

0
113

जयपुर इस्लामी नव वर्ष माह मुहर्रम हिजरी 1442 का चाँद नज़र आ गया है। सेंट्रल हिलाल कमेटी के कनविनर राजस्थान के चीफ़ क़ाज़ी ख़ालिद उस्मानी ने ये ऐलान किया कि शुक्रवार 21अगस्त को इस्लामी नये साल के पहले माह मुहर्रम की पहली तारीख़ होगी।इसके अनुसार मुहर्रम का अशरा 30 अगस्त को होगा।ये फ़ैसला हिलाल कमेटी के समस्त सदस्यों के द्वारा चाँद की तस्दीक़ करने के बाद लिया गया है ।

हिलाल कमेटी की बैठक आज

हिजरी संवत के जिल हिज्ज महीने की 29 तारीख को देखते हुए गुरुवार को मगरिब की नमाज के बाद हिलाल कमेटी की बैठक होगी. शहर काजी मौलाना तौसीफ अहमद सिद्दीकी की सदारत में होने वाली बैठक में मोहर्रम महीने के चांद दिखाई देने का ऐलान किया जाएगा. यदि मोहर्रम का चांद दिखाई दे जाता है, तो रात से ही लंगर खाना स्थित इमाम बारगाह में मर्सियाख्वानी और बयान ए शहादत का दौर शुरू हो जाएगा. चांद नहीं होने की सूरत में अगले दिन से यह कार्यक्रम होंगे.

कव्वालियों का दौर थमा

दरगाह में बुधवार रात से ही कव्वालियौ का दौर थम गया. इस बार कोविड-19 के चलते दरगाह में कव्वालियां वैसे ही बंद हैं. केवल खास अवसरों और रात के समय ही कव्वाली हो रही थी. कव्वाली का दौर मोहर्रम के तीजे की फातिहा तक बंद रहता है.