Rajasthan Exclusive > राजस्थान > मनचलों से परेशान महिलाएं अपनी गुहार लेकर पहुंची पुलिस मुख्यालय

मनचलों से परेशान महिलाएं अपनी गुहार लेकर पहुंची पुलिस मुख्यालय

0
152
  • कई बार गुहार के बाद भी अशोक नगर थाने में नहीं हो रही कार्रवाई

  • राजभवन में राज्यपाल को दिया जा चुका है ज्ञापन

  • जयपुर पुलिस कमिश्नर से भी लगा चुके गुहार

जयपुर: राजधानी जयपुर के सी स्कीम जैसे पॉश इलाके में मनचलों से परेशान महिलाएं कहीं भी सुनवाई नहीं होने पर आज अपनी गुहार लेकर पुलिस मुख्यालय पहुंची।

ये महिलाएं काफी दिनों से राजभवन कर्मचारी की अश्लील हरकतों से परेशान हैं, मामले कई बार अशोक नगर थाने में कार्रवाई के लिए गुहार लगा चुकी है, राजभवन में राज्यपाल के नाम ज्ञापन दे चुकी हैं, कहीं पर सुनवाई नहीं होने के बाद जयपुर कमिश्नर के पास भी कार्रवई के लिए मिन्नते कर चुकी हैं, लेकिन आज तक मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई।

उल्टे अशोक नगर थाने में मामले को राजीनामा कर खत्म करने के लिए दबाव बनाने जाने का आरोप महिलाओं ने लगाया है।

आज राजस्थान पुलिस मुख्यालय में राजस्थान के डीजीपी के नाम ज्ञान लेकर महिलाए पहुंची, जहां उन्होंने ज्ञापन देकर इंसाफ दिलाने की मांग की।

पीड़ित महिलाओं ने बताया कि पुलिस अब मामल को पार्किंग का झगड़ा बता कर एफआर लगाने की कोशिश कर रही हैं।

ऐसे में अपने आत्म सम्मान के लिए लड़ रही महिलाओं पास के इंसाफ के लिए भूख हड़ताल पर बैठने के सिवा कोई राास्ता नहीं बचा है।

सादिया खान ने बताया कि हम इस मामले में काफी समय से इंसाफ की मांग कर रहे हैं।

इससे पहले भी ये महिलाएं देर रात एक बजे अशोक नगर थाने जाकर धरना देना पड़ा था।

ये मामला सी स्कीम के आज़ाद मार्ग का है, जहां रहने वाली महिलाओं को शहजाद और रहीस नाम के दो शख्स पिछले तीन महीने से महिलाओं को परेशान किये हुए हैं।

इससे पहले भी महिलाएं 3 बार मामले में लिखित शिकायत दर्ज करा चुकी है लेकिन रसूख के चलते मामले में कोई एक्शन नहीं लिया जाता है।

कल शाम भी जब महिलाओं पर इन मनचलों ने अश्लील फब्तियां कसी।

अनम खान ने बताया कि काफी विरोध करने के बाद जब मामले में एफआईआर दर्ज की गई उसमें 164 के बयान होने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई।

परेशान महिलाओं का कहना है कि अगर राजधानी जयपुर के C स्कीम जैसे इलाके में महिला सुरक्षा के ऐसे हालात होंगे तो महिला अपराध के मामलों को कैसे रोका जायगा।

महिलाओं का कहना है कि इस मामले में आरोपियों द्वारा लगातार इलाके महिलाओं और युवतियों पर अशलील फब्तियां कसी जाती हैं।

आते जाते उनके वीडियो बनाये जाने की कोशिश की जाती है लेकिन पुलिस द्वारा कोई सख्त एक्शन नहीं लिए जाने से आरोपियों के होंसले और भी बुलंद होते जा रहे हैं।

पीड़िताओं के परिजन सलीम खान नें कहा कि,

“आज महिलाओं के मुद्दे पर सब बहुत संवेदनशील बात करते हैं, लेकिन जब कहीं किसी महिला को मदद की ज़रूरत होती है तक कोई मदद के लिए आगे नहीं आता। C स्कीम जैसी जगह पर पुलिस मदद करने के बजाए न जाने किस दबाव में मामले में FR लगाने की कोशिश कर रही है। ऐसे मामले में तो तफ्तीश पूरी कर के त्वरित कार्रवाई की जानी चाहिए।”