Rajasthan Exclusive > राजनीती > सत्य को परेशान किया जा सकता है, पराजित नहीं: सचिन पायलट

सत्य को परेशान किया जा सकता है, पराजित नहीं: सचिन पायलट

0
254

राजस्थान की राजनीति में भूचाल आ गया है. राज्य की गहलोत सरकार ने उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट को हटा दिया है जिसके बाद अब स्थिति दिलचस्प होती नजर आ रही है. उधर डिप्टी सीएम पद से हटाए जाने के बाद सचिन पायलट की पहली प्रतिक्रिया आई है. उन्होंने एक ट्वीट में लिखा है कि सत्य को परेशान किया जा सकता है, पराजित नहीं. इन सब घटनाक्रम के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र से मिलने पहुंचे हैं और उन्हें मौजूदा स्थिति से अवगत करा रहे हैं.

मालूम हो कि कांग्रेस विधायक दल की बैठक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास किया गया कि सचिन पायलट और बागी विधायकों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए. इसके बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने सचिन पायलट को डिप्टी सीएम के पद से हटाने का एलान कर दिया. उन्हें प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष पद से भी हटा दिया गया है.

उधर इन सबके बीच राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी सक्रिय हो गई है. खबर है कि भाजपा जल्दी विधायक दल की बैठक बुला सकती है. खबरों के मुताबिक, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम प्रकाश माथुर दिल्ली से जयपुर के लिए रवाना हो गए हैं. उम्मीद जताई जा रही है रास्थान में राजनीतिक उठा-पठक का फायदा उठाकर भाजपा यहां बड़ा दांव खेल सकती है. सूत्रों के मुताबिक, भाजपा सचिन पायलट को राज्य के सीएम के रूप में सामने ला सकती है. इन सभी मुद्दों के बीच सचिन पायलट आज शाम 5:00 बजे मीडिया से रूबरू होंगे.

आज होने वाली विधायक दल की बैठक में कांग्रेसी विधायकों ने सचिन और उनके सहयोगियों के लिए कार्रवाई करने की मांग किया था. बैठक खत्म होने के बाद पार्टी ने कार्रवाई करते हुए सचिन को तमाम पदों से हटा दिया है जबकि उनके तीन सहयोगियों को भी गहलोत मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया गया है.