Rajasthan Exclusive > राजस्थान > आर एस एस स्वयंसेवक पर फायरिंग मामले में वसुंधरा राजे ने आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी और उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की पैरवी की

आर एस एस स्वयंसेवक पर फायरिंग मामले में वसुंधरा राजे ने आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी और उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की पैरवी की

0
218

कोटा के रामगंजमंडी में अयोध्या के श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए धन संग्रहकर रहे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक पर हमले का मामला सामने आया है। रामगंजमंडी कस्बे में तनाव को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस बुलाई गई है।

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने फायरिंग की घटना की निंदा की है।फायरिंग मामले में सरकार पर निशाना साधते हुए राजे ने कहा कि श्रीराम मंदिर के लिए निधि संग्रह कर रहे आरएसएस स्वयंसेवक पर गोलीकांड की घटना कांग्रेस सरकार की बदत्तर कानून व्यवस्था पर बड़ा सवालिया निशान है। उन्होंने कहा कि स्वस्थ लोकतंत्र में इस तरह की घटनाओं का कोई स्थान नहीं है।

राजे ने सरकार से रामगंजमंडी फायरिंग प्रकरण के दोषी आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी और उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की पैरवी की। साथ ही चेतावनी देते हुए कहा कि आरएसएस जैसे सेवाभावी व राष्ट्र समर्पित संगठन के कार्यकर्ताओं पर इस तरह के कायराना हमले कतई बर्दाश्त नहीं किए जायेंगे।

वहीं उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने भी रामगंजमंडी फायरिंग प्रकरण को लेकर सरकार की कार्यशैली को कटघरे में रखा। राठौड़ ने कहा कि आरएसएस के जिला संघचालक दीपक शाह पर फायरिंग की घटना राज्य की जर्जर कानून व्यवस्था की स्थिति को बयां कर रही है। अपराधी बेखौफ होकर आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं और आमजन दहशतगर्दी के साये में जीने को मजबूर है।