Rajasthan Exclusive > देश - विदेश > पोस्टमॉर्टम से पहले विकास दुबे का हुआ कोरोना टेस्ट, रिपोर्ट का इंतजार

पोस्टमॉर्टम से पहले विकास दुबे का हुआ कोरोना टेस्ट, रिपोर्ट का इंतजार

0
73

कानपुर हत्याकांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे को एसटीएफ ने मार गिराया. उसे कानपुर ले जाते समय गाड़ी पलट गई जिसके बाद उसने भागने का प्रयास किया और पुलिस ने उसका एनकाउंटर कर दिया. खबर है कि विकास दुबे का पोस्टमॉर्टम से पहले कोरोना टेस्ट कराया जा रहा है. जानकारी के मुताबिक, डॉक्टरों की एक टीम ने विकास दुबे के शरीर से सैंपल लिए हैं. वीडियोग्राफी के साथ डॉक्टरों की एक टीम उसका पोस्टमार्टम करेगी.

मालूम हो कि यूपी पुलिस के आठ जवानों की हत्‍या का मुख्‍य आरोपी विकास दुबे आज सुबह कानपुर में पुलिस मुठभेड़ में मारा गया. यूपी एसटीएफ की गाड़ी विकास को लेकर कानपुर आ रही थी. पुलिस के मुताबिक बर्रा के पास अचानक रास्‍ते में गाड़ी पलट गई. इस हादसे में चार सिपाही घायल हो गए.

इसके बावजूद विकास पुलिस के चंगुल से बचकर भागने के फिराक में था. उसने मौका पाकर एसटीएफ के एक अधिकारी की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की. इसी के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई. एसटीएफ ने विकास से हथियार रखकर आत्मसमर्पण करने को कहा. वह इसके बावजूद नहीं माना तो पुलिस को मजबूरन एनकाउंटर करना पड़ा. एनकाउंटर में गोली लगने के बाद हिस्ट्री शीटर विकास दुबे की मौत हो गई.

मालूम हो कि विकास दुबे को मध्य प्रदेश के उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया गया था. गिरफ्तारी के बाद पुलिस उससे लगातार पूछताछ की. इस दौरान उसने कई बड़े खुलासे किए. विकास दुबे ने कहा कि वह पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद शवों को जलाना चाहता था. जलाने के लिए शवों को एक जगह इकट्ठा किया गया था और तेल का इंतजाम भी कर लिया गया था.

विकास ने पुलिसकर्मियों के संपर्क में होने की बात भी कही थी. विकास दुबे ने कहा कि हमें सूचना थी कि पुलिस सुबह आएगी. पुलिस रात में ही छापेमारी के लिए आ गई. डर था कि पुलिस एनकाउंटर कर देगी.

विकास दुबे पुलिस के एनकाउंटर में मारा गया, गाड़ी पलटने के बाद भागने की थी कोशिश