Rajasthan Exclusive > राजस्थान > हाईवे पर तीसरे दिन शांति लेकिन तनाव बरकरार, इंटरनेट सेवाएं बंद

हाईवे पर तीसरे दिन शांति लेकिन तनाव बरकरार, इंटरनेट सेवाएं बंद

0
130

जिले में हाईवे पर शनिवार को तीसरे दिन शांति है, लेकिन तनाव बरकरार है। पुलिस हाइवे पर करीब 2 किमी तक पेट्रोलिंग कर रही है। प्रशासन ने एहतियातन जिले में निषेधाज्ञा लगाते हुए इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी है।

शिक्षक भर्ती की 1167 सीटों को लेकर जारी प्रदर्शन के चलते उदयपुर-अहमदाबाद नेशनल हाइवे बंद है। प्रदर्शनकारी पहाड़ियों पर डेरा डाले हुए हैं। अब तक करीब पांच सौ से भी ज्यादा लोगों के खिलाफ नामजद मामले दर्ज किए जा चुके हैं। तमाम प्रयासों के बावजूद पुलिस बेड़ा हाईवे को खुलवा नहीं सका है। इस बीच हजारों वाहन चालकों को परेशानी झेलनी पड़ रही है।

यह भी पढे: हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी बढ़ती निजी स्कूलों की मनमानी

सरकार की इस पूरे मामले पर जयपुर से ही नजर है। पुलिस मुख्यालय के निर्देशों के बाद मौके पर लगातार पुलिस बल बढ़ाया जा रहा है। जयपुर में सीएम समेत अन्य मंत्रियों की दो से तीन बार बैठकें हो चुकी हैं। संभव है कि आज इस पूरे मामले का पटाक्षेप हो जाएगा। प्रदर्शन स्थल पर शुक्रवार को विधायक रमिला खंडिया भी पहुंची और प्रदर्शनकारियों से बातचीत की। आज फिर से सरकार और स्थानीय नेताओं का प्रतिनिधी मंडल प्रदर्शनकारियों से वार्ता के लिए जा सकता है।

अफसरों का कहना है कि इस पूरे प्रदर्शन के पीछे स्थानीय लोगों के साथ ही कुछ अन्य लोग भी हो सकते हैं जो परदे के पीछे रहकर इस पूरे प्रदर्शन को उग्र बना रहे हैं। दरअसल इस पूरे मामले में पुलिस इस कारण भी बैकफुट पर है कि प्रदर्शनकारी पुलिस पर हमला कर, लूटपाट और आगजनी कर बार-बार पहाड़ पर चढ़ जाते हैं।

पुलिसकर्मी उनका पीछा कर पहाड़ पर चढ़ने की कोशिश करते हैं तो ऊपर से पत्थरबाजी की जाती है। पुलिस पूरी तरह से पहाड़ पर चढ़ने की अभ्यस्त नहीं है। इस कारण भी इस प्रदर्शन को उग्र होने से रोकने में पुलिस को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।