Rajasthan Exclusive > राजस्थान > वायरल वीडियो के मामले में किरोड़ी ने उठाई जसकौर के खिलाफ कार्रवाई की मांग

वायरल वीडियो के मामले में किरोड़ी ने उठाई जसकौर के खिलाफ कार्रवाई की मांग

0
207

एक वायरल विडियो के मामले में भाजपा के दो सांसदों की आपस में ठन गई है। डॉ किरोड़ी लाल मीणा और जसकौर मीणा इन दिनों आमने-सामने हो गए हैं। वहीं दोनों सांसदों के समर्थकों के बीच भी सड़क से लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म तक पर गर्माहट बढती जा रही है। जगह-जगह विरोध-प्रदर्शनों के सिलसिले ने भी तूल पकड़ा हुआ है। दरअसल, ये मामला दौसा सांसद जसकौर मीणा के विवादित बयानों से जुड़ा हुआ है जिसका एक वीडियो पिछले दिनों वायरल हुआ।

सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में सांसद जसकौर मीणा एक कार्यक्रम में संबोधित करती दिखाई दे रही हैं। इसमें उन्होंने बातों ही बातों में समाज के नेताओं पर नाराजगी ज़ाहिर करते हुए कहा कि एक नेता ने तो उन्हें हराने के लिए उनके खिलाफ कई मीटिंग भी की। उद्बोधन में उन्होंने समाज के एक सीनीयर नेता के लिए ऐसे शब्दों का इस्तेमाल कर डाला जो सांसद के लिहाज़ से अमर्यादित भाषा की श्रेणी में आ गया। वहीं भाषण के एक हिस्से में उन्होंने रेलवे के गैंगमेन की नौकरी को लेकर भी टिप्पणी की जिससे ये वर्ग भी आहत हो रहा है।

यह भी पढे:अब मास्क अनिवार्य करने के लिए कानून ला रही गहलोत सरकार

दौसा सांसद ने भले ही भाषण के दौरान समाज के किसी नेता का नाम नहीं लिया, मगर उनके इस वक्तव्य से सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा के समर्थक उखड गए। किरोड़ी समर्थकों ने सोशल मीडिया में सांसद जसकौर मीणा के बयान पर कडा एतराज जताना शुरू कर दिया।

सांसद के बयान को लेकर खासतौर से दौसा में जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं। इस बीच राज्य सभा सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने अब भाजपा नेतृत्व से सांसद जसकौर मीणा के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।
सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा ने दौसा में मीडिया से बातचीत में कहा है कि सांसद जसकौर मीणा के बयान राजनीति के गिरते स्तर का परिचायक है। उन्होंने कहा कि इस विवादित बयान से वे स्वयं और उनके समर्थक व कार्यकर्ता आहत हैं।

डॉ मीणा ने कहा कि सांसद जसकौर मीणा को लगता है जीत का गुरुर हो गया है तभी इस तरह के वे बयानबाजी कर रही हैं। उन्होंने कहा कि देखा जाए तो जसकौर मीणा खुद चुनाव नहीं जीती हैं, बल्कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की लोकप्रियता ने उन्हें चुनाव जिताकर सांसद बना दिया है।

यह भी पढे:पहली बार बाज़ार आया गाय के गोबर से बना दीया

वहीं सांसद डॉ मीणा ने ये भी कहा कि सांसद जसकौर का सार्वजनिक बयानबाजी पार्टी के लिए, उनके लिए और मेरे खुद के लिए घातक है। उन्होंने कहा, ‘वे सांसद हैं, बड़ी हैं, नाते की दृष्टि से भी मैं उनका सम्मान करता हूँ, लेकिन जिस भाषा का उपयोग वो कर रही हैं, उसके लिए पार्टी को उनके विरुद्ध संज्ञान लेना चाहिए।‘

मामला गरमाता देख कर सांसद जसकौर मीणा ने एक वीडियो प्रतिक्रिया जारी कर बयान पर अपनी सफाई देते हुए कहा कि उनके बयान को तोड़-मरोड़कर गलत तरीके से पेश किया जा रहा है। उन्होंने अफ़सोस जताते हुए कहा कि युवाओं का ही एक वर्ग उनके बयानों को सोशल मीडिया पर गलत तरीके से प्रचारित कर रहा है।