Rajasthan Exclusive > राजस्थान > 11 लाख बेरोजगारों को शिक्षा विभाग की थर्ड ग्रेड शिक्षक भर्ती का बेसब्री से इंतजार

11 लाख बेरोजगारों को शिक्षा विभाग की थर्ड ग्रेड शिक्षक भर्ती का बेसब्री से इंतजार

0
189

अभ्यर्थी इस भर्ती घोषणा के बाद आठ महीने से इंतजार कर रहे हैं।

31हजार पदों की भर्ती को लेकर शिक्षा विभाग की तैयारियां यूं तो अंतिम दौर में हैं।

लेकिन ओवर एज होने के डर से कैंडिडेट जल्द इस भर्ती की तारीख जारी होने की उम्मीदें संजोए बैठे हैं।

राज्य के प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों को यदि किसी भर्ती का बेसब्री से इंतजार है तो वो है रीट शिक्षक भर्ती।

24 दिसम्बर 2019 को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 31 हजार पदों पर शिक्षक भर्ती के लिए रीट भर्ती परीक्षा के आयोजन की घोषणा की थी।

जिसके बाद शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने भी परीक्षा 2 सितम्बर 2020 को आयोजित करवाने की घोषणा की।

लेकिन करीब 8 महीने बीत जाने के बाद भी प्रदेश के करीब 11 लाख बेरोजगारों को भर्ती की विज्ञप्ति,पैटर्न और परीक्षा तिथि का इंतजार है।

अभ्यर्थियों की माने तो बड़ी तादात में ऐसे कैंडिडेट भी इस परीक्षा में शामिल है जिन्हें ओवरएज होने की स्थिति में हैं और लंबे समय से इस परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं।

यदि अब भी और देरी की जाती रही तो उन्हें बड़ा नुकसान झेलना पड़ेगा।

यह भी पढे: एमसीएचएन डे पर 280 सत्रों में 949 गर्भवती महिलाओं और 3570 बच्चों को लगाए टीके

रीट शिक्षक भर्ती परीक्षा को लेकर प्रदेश के करीब 11 लाख से ज्यादा बेरोजगार तैयार कर रहे हैं।

जो कई बार शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री समेत जनप्रतिनिधियों से इसे लेकर मांग कर चुके हैं।

लेकिन अभी तक कोई विभागीय नोटिफिकेशन जारी नहीं हुआ है।

ऐसे में अब बेरोजगारों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर राज्यव्यापी कड़ा आंदोलन किया जाएगा।

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा पहले मई महीने तक इस परीक्षा को सितम्बर में आयोजित करवाने की बात कहते रहे।

लेकिन कोरोना काल लम्बा खींचने के चलते परीक्षा का समय और आगे पर टाल दिया गया।

हाल ही में प्री डीएलएड की परीक्षा कोरोना गाइडलाइन के साथ कराई गई तो इससे बेरोजगारों की उम्मीदें जागी है

 प्रतियोगी परीक्षा भी सरकार पूरे ऐतिहात के साथ करवा सकती हैं।

लेकिन परीक्षा से पहले विज्ञप्ति और तिथि की घोषणा करना बेहद जरूरी हैं।

यह भी पढे: योजनाओं की प्राथमिकता निर्धारण के लिए राज्य स्तरीय समितियों का गठन

हर बार परीक्षा का आयोजन करने वाले माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान को भी अब तक रीट के संबंध में कोई निर्देश नहीं मिले हैं।

लेकिन शिक्षा मंत्री ने जहां हालात सामान्य होने पर परीक्षा आयोजन की बात कही तो वहीं उनका ये भी कहना था

प्रदेश के बेरोजगार अभ्यर्थियों को ध्यान में रखते हुए शिक्षा विभाग में भी कई भर्तियां की गई।

ऐसे में अभ्यर्थियों को इस परीक्षा के लिए भी निश्चिंत रहकर अपनी तैयारी करनी चाहिए।

गोविदं सिंह डोटासरा, शिक्षा मंत्री

सिंतबर महीने की शुरूआत ही हो चुकी हैं और आज की तारीख यानि दो सिंतबर ही इस परीक्षा के लिए पूर्व में तय की गई थी।

लेकिन आज तलक महज अभ्यर्थियों को इस भर्ती के जरिए सरकारी अध्यापक बनने का इंतजार ही मिल सका हैं।

यह भी पढे: प्रदेश में सितम्बर से कोवि़ड कोष के लिए मुख्यमंत्री से लेकर कर्मचारियों तक का वेतन कटेगा

अब शिक्षा विभाग के द्वारा जल्द परीक्षा कराने के आश्वासनों पर अभ्यर्थियों को भरोसा करना होगा, क्योंकि सरकारी आश्वासनों पर ही बेरोजगारों की उम्मीदें कायम है।