Rajasthan Exclusive > देश - विदेश > WHO ने माना कोरोना हवा के जरिए भी फैल सकता है, वैज्ञानिकों के दल ने की थी अपील

WHO ने माना कोरोना हवा के जरिए भी फैल सकता है, वैज्ञानिकों के दल ने की थी अपील

0
152

कोरोना वायरस पूरे विश्व में तेजी से फैल रहा है. दिन प्रतिदिन नए मामलों की संख्या में भारी बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. इस बीच दुनिया के 32 देशों के 239 वैज्ञानिकों ने रिसर्च में दावा किया था कि जानलेवा वायरस हवा के जरिए भी लोगों को अपना शिकार बना सकता है. इसलिए विश्व स्वास्थ्य संगठन से अपील की गई थी कि कोरोना के फैलाव को लेकर जारी गाइड लाइन में संशोधन किया जाए.

‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ में प्रकाशित एक रिपोर्ट में वैज्ञानिकों ने WHO से इस वायरस की रिकमंडेशन्स (संस्तुति) में तुरंत संशोधन करने का आग्रह किया है. इतना ही नहीं इन वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि हवा के जरिये कोरोना लोगों को अपना शिकार बना सकता है इसका उनके पास सबूत भी है.

कोरोना वायरस को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने पहले दावा किया था कोरोना हवा से लोगों में नहीं फैलता. बल्कि ये खतरनाक वायरस सिर्फ थूक के कणों से ही फैलता है. ये कण कफ, छींक और बोलने से शरीर से बाहर निकलते हैं. लेकिन अब WHO ने माना है कि कोरोना वायरस का संक्रमण हवा से भी फैल रहा है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन से जुड़ी मारिया वैन ने इस सिलसिले में जानकारी देते हुए कहा कि कोरोना वायरस का हवा के जरिए फैलने की बात से इनकार नहीं किया जा सकता है. इतना ही नहीं डब्ल्यूएचओ की संक्रमण से बचाव और नियंत्रण का नेतृत्व कर रही बेनडेटा एलीग्रांजी ने भी माना है कि कोरोना वायरस संक्रमण के हवा में फैलने के सबूत हैं.

भारत की पहली कोरोना वैक्सीन का निम्स में शुरू हुआ मानव परीक्षण